रीयल एस्टेट के मालिक ने दोस्तों व रिश्तेदारों के साथ मिलकर युवती से किया गैंगरेप, सिर और हाथ-पैर की हड्डियां ही बचीं रह गई शरीर में

By: Ruchi Sharma

Updated On:
11 Aug 2019, 01:39:12 PM IST

  • -हत्या के बाद आरोपी कार से महिला को रायबरेली ले गए थे

लखनऊ. राजधानी के पारा में स्थित रीयल एस्टेट कंपनी में काम करनी वाली एक महिला कर्मचारी के साथ कंपनी के ही मालिक व उसके साले साथियों ने गैंगरेप कर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी कार से महिला को रायबरेली ले गए थे। वहां रायबरेली -उन्ना बार्डर स्थित सई नदी के पुल से फेक दिया। महिला का शव क्षत-विक्षत हालत में बरामद कर लिया। महिला तीन अगस्त से लापता थी। युवती के भाई ने पारा थाने में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस मामले को लेकर पुलिस ने सरोजनीनगर के गुड्डू यादव, आलमबाग निवासी दरोगा पुत्र अजय यादव व अवधेश यादव को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें- उन्नाव दुष्कर्म मामले में इन 18 गवाहों के पास है ये बड़ा सबूत, उस रात का खोलेंग सबसे बड़ा राज, SC ने दी रातों रात गनर की सुरक्षा

25 लाख रुपये को लेकर चल रहा था विवाद

पारा थाना के इंस्पेक्टर त्रिलोकी सिंह ने बताया कि कांशीराम कॉलोनी निवासी 27 वर्षीय युवती काकोरी के मौदा निवासी संजय यादव की कंपनी अमित इंफ्रा हाईट्स प्राइवेट लिमिटेड (Amit Infra Heights Private Limited) में कम्यूटर अॉपरेटर का काम करती थी। जिसका मालिक संजय यादव है। उसका कंपनी के मालिक संजय से कमीशन के को लेकर विवाद चल रहा था। वह दूसरी नौकरी के लिए इंटरव्यू देने जा रही थी, तभी आरोपी उसे बरगलाकर ले गए और हत्या करके शव नदी में फेंक दिया।

यह भी पढ़ें- उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता रिपोर्ट ने बढ़ाई टेशन, खून में मिले ये खतरनाक बैक्टीरिया, डॉक्टर ने किया पीड़िता के स्वास्थ्य को लेकर सबसे बड़ा खुलासा

कमीशन नहीं देना चाहता था मालिक

युवती के भाई ने बताया कि कंपनी मालिक संजय उसके कमीशन के 25 लाख रुपये हड़पना चाहता था। कंपनी में बुकिंग एजेंट बहन प्लॉट बिकवाती थी, जिसका उसे कमीशन मिलता था। कई बार दबाव डालने के बाद पिछले दिनों 6 लाख रुपये का चेक दिया था। उसने आरोप लगाया जिससे कि बाकी रकम न देनी पड़े, इसलिए उसने बहन की हत्या की साजिश रची। अपहरण की वारदात में संजय के साथ उसका-जाजी गुड्डू यादव, साथी अजय यादव, अवधेश यादव व एक अन्य व्यक्ति शामिल था। महिला को अपने ठिकाने पर ले जाने के बाद आरोपियों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया विरोध करने पर महिला को काफी पीटा गया। इससे वह बेहोश हो गई महिला के विवश होते ही आरोपी उसे कार से रायबरेली के लिए ले कर चल दिए। चलती गाड़ी में दुपट्टे से गला कसकर महिला की हत्या कर दी गई। शव को ठिकाने लगाने के लिए वे काफी देर तक घूमते रहे। उसके बाद रायबरेली के पास साईं नदी पुल से महिला का शव फेंक कर आरोपी फरार हो गए।

यह भी पढ़ें- आर्टिकल 370 के खत्म होने के बाद भाजपा का ये बड़ा नेता खरीदने जा रहे जमीन, किया सबसे बड़ा ऐलान


कपड़े से हुई पहचान

आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस की टीम ने हरचंदपुर स्थित नदी के पास का इलाका खंगाला तो कीचड़ से सना एक शव मिला। सिर्फ सिर और हाथ-पैर की हड्डियां ही बची थीं। कुछ कपड़े मिले, जिनके आधार पर युवती के भाई ने उसकी पहचान की। पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए अवशेष सुरक्षित रख लिए हैं। जरूरत पड़ने पर डीएनए की जांच की बात कही है।

Updated On:
11 Aug 2019, 01:39:12 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।