लखनऊ, एक ओर शुद्ध मिट्टी में गंगाजल मिलाकर बनाई चौकी पर स्थापित गौरी-शंकर की मूर्ति का मनमोहक श्रंगार कर प्रज्जवलित दीप, धूप और नाना प्रकार के फल और मिष्ठान्नों के साथ हो रही पूजा-अर्चना तो दूसरी ओर गौरी-महादेव से पति की दीर्घायु और कुशलता की कामना के साथ निर्जला व्रत लिए सुहागिनों द्धारा गाए जा रहे मंगलगीतों के गुंजते स्वर, यह दृष्य था अलखनन्दा अपार्टमेंट, रिवर व्यू कालोनी में आयोजित हरितालिका उत्सव का।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।