जब सपेरों ने बजाई बीन तो एक-एक कर निकले घर से 14 कोबरा

By: Ashish Kumar Pandey

Updated On: Oct, 04 2018 08:52 PM IST

 
  • ग्रामीणों के उड़ गए होश, परिजन दूसरे के घरों में सोने को हैं मजबूर।

     

     

कन्नौज. एक घर में अचानक सांप निकलने की रोचक घटना घटी। सांपों को देखकर दहशत में आये ग्रामीणों ने इसकी जानकारी सपेरों को दी। ग्रामीणों ने साँपों को पकड़वाने के लिए सपेरे बुला लिए। जब सपेरों ने सांपों को निकालाना शुरू किया किया तो दुनिया के सबसे जहरीले सांपों में गिने जाने वाले 14 किंग कोबरा सांप निकले और आधा सैकड़ा से ज्यादा सांप के अंडे निकले हैं। कच्चे घर से 14 कोबरा निकलने से गांव में दहशत फैल गई। वहीं और भी सांप होने का सपेरों ने अनुमान लगाया है। जिससे परिवार के लोग घर में जाने से भी डर रहे हैं। वहीं घर के लोग दूसरों के घरों में सोने पर मजबूर हो रहे हैं।

परिजनों के उड़े होश

पूरा मामला कन्नौज के तिर्वा तहसील के अहेर गांव का है। जहां महेश गुप्ता पुत्र सियाराम अपने परिवार के साथ कच्चे घर में रहता है। बीते तीन दिन पहले घर में एक काला सांप दिखाई पड़ा था, जिसको ग्रामीणों ने पकड़कर लाठी-डंडों से मार डाला था। उसके बाद फिर एक सांप दिखाई पडऩे से परिजन चिंतिंत हो गए। इस बीच परिजनों ने सपेरों को बुलवा लिया।

एक-एक कर निकले 14 सांप

जैसे ही सपेरों ने घर में जाकर अपनी बीन बजाई तो दो-तीन सांप इधर-उधर मडराने लगे। जिसको देखकर परिजनों के होश उड़ गए। आखिर में सपेरों ने कच्ची दीवारों को खोदकर 14 काले सांप को घर से निकाल लिया। वहीं सपेरों का अनुमान है कि इस कच्चे मकान में अभी और भी सांप हो सकते हैं। महेश गुप्ता के घर काले सांप निकलने से पूरे गांव में दहशत फैल गया।

सभी सांप हैं जहरीले
सपेरों ने बताया कि निकलने वाले सभी काले सांप कोबरा जाति के हैं। इनके काटने से मनुष्य निश्चित मौत के मुंह में चला जाता है। महेश गुप्ता व उनके परिवार ने बताया कि वह एक कच्चे मकान में रहते हैं। उसके पास सिर्फ इस कच्चे मकान में एक कच्चा कमरा है। जिसमें चार पुत्रियों व तीन पुत्रों के साथ पूरा परिवार जीवन यापन करता है। सांप की वजह से उसको दूसरों के घरों में सोना पड़ रहा है और कभी-कभी सड़कों पर भी सोना पड़ता है।

इसके पहले भी निकले थे 18 किंग कोबरा

कन्नौज के तिर्वा तहसील के डढिय़न गांव में रहने वाली मीरा देवी के घर में 2 सांप दिखाई दिये थे, जिसके बाद मीरा देवी ने अपने पड़ोसियों को इसकी सूचना दी। सांप होने की सूचना से डरे ग्रामीणों ने 14 जुलाई 2018 को कुछ सपेरों को बुला लिया। बीन बजाकर जब सपेरों ने सांपो को पकडऩा शुरू किया तो एक-एक करके 18 छोटे बड़े सांप दुनिया के सबसे जहरीले सांपो में गिने जाने वाले किंग कोबरा प्रजाति के झोपड़ी से निकाले गए।

Published On:
Oct, 04 2018 08:52 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।