विजय माल्या पर कसा शिकंजा, भगौड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करेगी ईडी

By:

Published On:
Jun, 23 2018 10:54 AM IST

  • ईडी ने भगौड़ा आर्थिक अपराधी अध्यादेश के तहत विजय माल्या को भगौड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने तथा उनकी 12500 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क करने की अनुमति देने के लिए आवेदन किया है।

नई दिल्ली। देश के सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) समेत कई सरकारी बैंकों का 9 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा को लोन लेकर फरार शराब कारोबारी विजय माल्या पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिकंजा कसने की तैयारी कर ली है। ईडी ने भगौड़ा आर्थिक अपराधी अध्यादेश के तहत विजय माल्या को भगौड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने तथा उनकी 12500 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क करने की अनुमति देने के लिए आवेदन किया है।

13 पैसे तक कम हुआ पेट्रोल के दाम, 11 पैसे कम हुर्इ डीजल की कीमत

12500 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क करने की अनुमति मांगी

इस अध्यादेश के लागू होने के बाद ईडी ने सबसे पहले माल्या पर इसके तहत कार्रवाई की तैयारी की है। जांच एजेंसी के अनुसार इस अध्यादेश के तहत माल्या को भगौड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने के लिए आवेदन किया गया है। इसके साथ ही माल्या की 12500 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क करने की अनुमति दिए जाने की भी अपील की गई है। आपको बता दें कि माल्या पर सरकारी बैंकों के हजारों करोड़ रुपए ऋण लेकर देश छोड़कर भागने का आरोप है। इस मामले की ईडी और केन्द्रीय जांच ब्यूरो पहले से ही जांच कर रहे हैं।

लंदन में रह रहा है माल्या

सरकारी बैंकों से हजारों करोड़ रुपए के कर्ज लेकर फरार हुआ शराब कारोबारी विजय माल्या इस समय लंदन में आराम से रह रहा है। माल्या को भारत लाने के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और ईडी ने लंदन की एक अदालत में केस दायर किया है। इस अदालत में माल्या को भारत प्रत्यर्पण करने को लेकर सुनवाई चल रही है। अभी इस मामले में सीबीआई-ईडी को सफलता नहीं मिली है लेकिन अदालत माल्या को कई बार फटकार लगा चुकी है। हाल ही में लंदन की अदालत ने बैंकों को 1.80 करोड़ रुपए का भुगतान करने को कहा था। यह भुगतान बैंकों की ओर से केस लड़ने के दौरान खर्च राशि के बदले किया जाना है।

Published On:
Jun, 23 2018 10:54 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।