RBI की रिपोर्ट: देश के बैंकों में जमा केवल इतने ही पैसे हैं सुरक्षित, जानिए पूरा मामला

By: manish ranjan

|

Updated: 17 Mar 2018, 05:02 PM IST

कॉर्पोरेट

नई दिल्ली। देश की बैंकिंग हालत पर भारतीय रिजर्व बैंक के खुलासे से आप हैरत में पड़ जाएंगे। आरबीआई की रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि देश भर के सभी बैंकों में जमा पैसों में केवल 30 फीसदी पैसा ही सुरक्षित है। मतलब देश भर के बैंकों में जमा 70 फीसदी पैसों का अभी भी कोई सिक्योरिटी नहीं है। आरबीआई की रिपोर्ट के मुताबिक देश भर के सभी बैंकों में करीब 103 लाख करोड़ रुपए जमा है। जिसमें से केवल 30 लाख करोड़ की रकम ही सुरक्षित है। ऐसे में अगर देश के कुछ और डूब जाते हैं तो जमाकर्ताओं को केवल 30 लाख करोड़ की रकम ही मिल पाएगी।

भारत के ग्राहक ज्यादा असुरक्षित
भारतीय स्टेट बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक एक और चौकाने वाला खुलासा सामने आया है । एसबीआई की इस रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के लोगों के जमा पैसों की सुरक्षा के मामले में भारत काफी पीछे है। जबकि इस मामले में ब्राजील, अमेरिका, फ्रांस जैसे देश सबसे आगे हैं।

क्यों नहीं सुधर रहा बैंकिंग सिस्टम
बैंकों के लिए उनका लगातार बढ़ता एनपीए जी का जंजाल बन चुका है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि बैंकों पर कुल 7.34 लाख करोड़ का एनपीए हैं। जिसमें सरकारी बैंकों की हिस्सेदारी 77 फीसदी की है। ऐसा नहीं है कि सरकार और आरबीआई ने बैंकों को एनपीए की मार से निजात दिलाने के लिए कोई कदम नहीं उठाए हैं। लेकिन उसके बावजूद भी ये समस्या बनी हुई है।

एनपीए की मार से आम आदमी भी त्रस्त
बैंक तो एनपीए की मार से जुझ ही रहे हैं लेकिन इसका खामियाजा भी आम आदमी को भुगतना पर रहा है। एक रिपोर्ट के मुताबिक देश के कुल बैड लोन में मिडिल क्लास की हिस्सेदारी केवल 19 फीसदी की है। लेकिन एनपीए से निपटने के लिए कई बैंकों ने लोन लेने की शर्तें कड़ी कर दी है। जिसके चलते एक सैलरीपेशा या साधारण कारोबारी को लोन मिलने में पहले के मुकाबले अब ज्यादा दिक्कतें हो रही है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।