एयरसेल-मैक्सिस केस: पी चिदंबरम व कार्ति चिदंबरम की अंतरिम सुरक्षा 1 फरवरी तक बढ़ी

By: Ashutosh Kumar Verma

Updated On:
11 Jan 2019, 03:30:16 PM IST

  • दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने एयरसेल-मैक्सिस केस को 1 फरवरी 2019 तक के लिए टाल दिया है।

नर्इ दिल्ली। दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने एयरसेल-मैक्सिस केस को 1 फरवरी 2019 तक के लिए टाल दिया है। साथ में केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआर्इ) आैर प्रवर्तन निदेशालय (र्इडी) मामले को लेकर कोर्ट ने पी चिदंबरम आैर उनके बेटे कार्ति चिदंबरम की अंतरिम सुरक्षा की अवधि भी 1 फरवरी 2019 तक के लिए बढ़ा दी है। इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट ने ही पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम आैर उनके बेटे कार्ति चिदंबरम को गिरफ्तारी से दी गर्इ अंतरिम छूट को 11 जनवरी तक बढ़ाया था।

दोनों ने अपने उपर लगे आरोपों को किया है खारिज

आपको बता दें कि यह मामला एयरसेल आैर मैक्सिस सौदे के दौरान विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआर्इपीबी) को लेकर की गर्इ कथित अनियमितताआें का है। इस केस में अब तक 18 लोगों पर आरोप लग चुके हैं। चिदंबरम के अतिरिक्त, पांच अधिकारियों पर भी यह केस चल रहा है। दोनों जांच एजेंसियों द्वारा लगाए गए आराेपों को बेटे व पिता ने खारिज कर दिया है। एजेंसियों ने कहा है कि दोनों जांच में मदद नहीं कर रहे हैं। कार्ति व पी चिदंबरम ने कहा है कि उनपर लगे आरोप निराधार हैं आैर इसके लिए कस्टडी में किसी तरह की जांच जरूरत नहीं है।


600 की जगह 3500 करोड़ रुपए की दी थी मंजूरी

सीबीआर्इ ने 26 नवंबर को कोर्ट को जानकारी दिया था कि केंद्र ने पी चिदंबरम के खिलाफ केस चलाने की अनुमति दे दी है। आर्इएनएक्स केस में कार्ति का भी नाम सामने आया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बेटे के माध्यम से पी चिदंबरम ने यह डील की थी। नियमों के मुताबिक वह 600 करोड़ रुपए के निवेश को अपने स्तर पर मंजूरी दे सकते थे। लेकिन उनके उपर आरोप है कि उन्होंने 3500 करोड़ रुपए की मंजूरी दी थी।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business news in hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

Updated On:
11 Jan 2019, 03:30:16 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।