नीरव मोदी गिरफ्तारः लंदन कोर्ट में खारिज हुई बेल याचिका, 29 मार्च तक जेल में ही रहना होगा

By: Ashutosh Kumar Verma

Updated On: Mar, 20 2019 08:49 PM IST

    • कुछ दिन पहले ही लंदन के वेस्टमिनिस्ट कोर्ट ने जारी किया था अरेस्ट वारंट।
    • लंदन कोर्ट में सुनवाई के दौरान नीरव मोदी की बेल याचिका खारिज।
    • अब 29 मार्च तक जेल में ही रहना होगा

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक में करीब 13 हजार करोड़ रुपए का मुख्य आरोपी और हीरा कारोबारी नीरव मोदी को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया है। दो दिन पहले ही नीरव मोदी के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी किया गया था। लंदन के वेस्टमिनिस्टर कोर्ट ने इस भगौड़े कारोबारी के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी किया था। गिरफ्तार होने के बाद आज वेस्टमिनिस्टर कोर्ट में नीरव मोदी की सुनवार्इ के दौरान उसकी बेल याचिका को खारिज कर दिया गया है। कोर्ट ने कहा है कि नीरव मोदी को 29 मार्च तक जेल में ही रहना होगा। नीरव मोदी की इस गिरफ्तारी को भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत माना जा रहा है। 29 मार्च को नीरव मोदी के खिलाफ अगली सुनवाई होगी। साथ ही प्रवर्तन निदेशालय का एक जांच अधिकारी भी लंदन जाएगा।


जारी हुआ था वाॅरेंट

आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के प्रत्यर्पण अनुरोध पर लंदन की एक अदालत ने नीरव मोदी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया था। भारतीय बैंकों का 13 हजार करोड़ रुपए लेकर फरार हुआ नीरव मोदी पिछले दिनों लंदन की सड़कों पर हुलिया बदलकर घूमता नजर आया था। जबकि, उसके खिलाफ इंटरपाेल का रेड कॉर्नर नोटिस जारी हुआ था। ब्रिटेन की वेस्टमिनिस्टर कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता लिया और उसके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया था। जानकारों की मानें तो उसके भारत प्रत्यर्पण में बहुत लंबा वक्त लग सकता है। क्योंकि गिरफ्तारी के बाद उसके पास कोर्ट जाने का विकल्प होगा और कोर्ट से उसे कुछ शर्तो के साथ जमानत भी मिल सकती है।


नए लुक में सामने आया था नीरव मोदी

यूके के एक अखबार टेलीग्राफ ने एक वीडियो जारी किया था। इस वीडियो में बताया गया कि 48 वर्षीय नीरव मोदी लंदन की सड़कों पर लुक बदलकर घूम रहा है। भारत की पहल पर इंटरपोल ने नीरव के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया हुआ है। यही नहीं, इस वीडियो में नीरव मोदी द्वारा लंदन में हीरा कारोबार चालू करने की भी बात भी कही गई है। इस वीडियो में नीरव मोदी काफी मोटा नजर आ रहा है। साथ ही उसने अपने लुक में भी बदलाव किया है। उसने अपनी मूंछों को बड़ा कर लिया है और दाढ़ी भी बढ़ाई हुई है।


विजय माल्या की तरह ही होगी कार्रवार्इ

भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या के मामले में जो प्रक्रिया चल रही है, वही प्रक्रिया नीरव मोदी के मामले में भी चलेगी। 9,000 करोड़ रुपए लेकर फरार हुए माल्या के प्रत्यर्पण का मामला अब आखिरी चरण में है। लंदन की सड़कों पर नीरव मोदी के नजर आने के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने कहा था कि मंत्रालय ने पिछले साल अगस्त में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण का अनुरोध किया था। मंत्रालय को यह अच्छी तरह से पता है कि वह ब्रिटेन में है। ब्रिटेन के टेलीग्राफ अखबार ने हाल में अपनी एक रिपोर्ट में बताया था कि नीरव मोदी लंदन के पॉश सेंटर प्वाइंट इलाके के एक टॉवर ब्लॉक में तीन बेडरूप के फ्लैट में रहा है, जिसका किराया लगभग १७ लाख रुपए महीना है।


पत्नी एमी मोदी के खिलाफ भी जारी हो चुका है गैर-जमानती वारंट

आपको याद दिला दें कि बीते सप्ताह (15 मार्च) ही नीरव मोदी की पत्नी एमी मोदी के खिलाफ प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के न्यायधीश एमएस आजमी ने यह वारंट जारी किया गया था। एमएस आजमी ने यह वारंट 48 वर्षीय नीरव मोदी व अन्य आरेपियों के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय द्वारा दायर सप्लीमेंट्री चार्जशीट को संज्ञान में लेते हुए किया है। वित्तीय फ्रॉड मामलों की जांच करने वाली एजेेंसी ने आरोप लगाया है कि एमी मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय बैंक अकाउंट के माध्यम से ३ करोड़ रुपए ट्रांसफर किया है। एजेंसी को इस बात को आशंका है कि यह लेनदेन पीएनबी फ्रॉड से जुड़ा हुआ है। ईडी ने कहा है कि इस फंड का इस्तेमाल न्यू यॉर्क सेंट्रल पार्क में प्रॉपर्टी खरीदने के लिए किया गया है।

Published On:
Mar, 20 2019 03:07 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।