लंदन में बैठे माल्या से ED वसूलेगी 9000 करोड़ रुपए, आज से संपत्ति होगी जब्त

By: Saurabh Sharma

Updated On: Mar, 27 2018 11:17 AM IST

  • र्इडी आज से विजय माल्या की संपत्ति को क्रिमिनल प्रेसीजर कोड के सेक्शन-83 के तहत जब्त करने की कार्रवार्इ कर रही है।

नर्इ दिल्ली। बैंकों के करीब 9000 करोड़ रुपए ना चुकाने वाले आैर लंदन में रह रहे लीकर किंग विजय माल्या की संपत्तियों को जब्त करने की कार्रवार्इ की जाएगी। र्इडी सीपीसी (क्रिमिनल प्रेसीजर कोड) सेक्शन-83 के तहत यह कार्रवार्इ करेगा। इस सेक्शन के तहत भगोड़े अपराधियों की संपत्तियों को जब्त किया जाता है। किंगफिशर के मालिक आैर लीकर किंग के नाम से मशहूर विजय माल्या 2 मार्च 2016 को लंदन भाग गए थे।

फेरा के नियमों का किया था उल्लंघन
प्रवर्तन निदेशायल यानि र्इडी का आरोप है कि विजय माल्या ने फॉरेन एक्सचेंज रेग्युलेटरी अथॉरिटी (फेरा) के नियमों का उल्ल्लंघन किया है। माल्या ने 1996, 1997 और 1998 में लंदन में हुई फार्मूला वन रेसिंग में किंगफिशर का लोगो यूरोप के कई देशों में दिखाने के लिए एक ब्रिटिश फर्म को लगभग 1.29 करोड़ रुपए दिए थे। जिसके बाद दिल्ली की कोर्ट ने विजय माल्या को समन जारी कोर्ट में उपस्थिति दर्ज कराने को कहा था। कोर्ट में हाजिर ना होने के बाद विजय माल्या को अपराधी घोषित कर दिया गया था।

अरुण जेटली ने की थी ब्रिटिश पीएम से मुलाकात
विजय माल्या को वापस लाने के लिए भारत सरकार ने पिछले एक साल से काफी प्रयास कर रही है। इसके लिए देश के वित्त मंत्री ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे से लंदन मे मिले भी थे। खास बात यह थी कि थेरेसा में ने सारे प्रोटोकोल को तोड़कर अरुण जेटली से मुलाकात की थी। जिसके बाद ब्रिटिश गवर्नमेंट ने इस मामले में कार्रवार्इ के लिए केस को डिस्ट्रिक्ट जज के पास भेज दिया था। उसके तुरंम बाद एक्स्ट्राडीशन वारंट के तहत माल्या को गिरफ्तार कर लिया गया। खास बात यह थी कि वारंट जारी होने के बाद विजय माल्या खुद सेंट्रल लंदन पुलिस स्टेशन पर आत्मसमर्पण करने पहुंवे थे। प्रत्यर्पण मामले पर सुनवाई चल रही है। जून के अंत विजय माल्या पर कोई फैसला आ सकता है। विजय माल्या मामले में भारत का पक्ष रख रही सीबीआई को उम्मीद है कि विजय माल्या का भारत प्रत्यर्पण हो जाएगा। बता दें कि बैंकों का रुपया ना लौटाने को लेकर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मुंबर्इ की विशेष अदालत ने माल्या को भगोड़ा घोषित कर दिया था। जानकारी के अनुसार लंदन के कोर्ट में माल्या के खिलाफ

विजय माल्या पर किसका कितना कर्ज?
प्राप्त जानकारी के अनुसार 31 जनवरी 2014 तक किंगफिशर एयरलाइन्स पर 17 बैंकों का 6,963 करोड़ रुपए कर्ज था। इस पर ब्याज लगने के बाद माल्या पर 9,432 करोड़ रुपए कर्ज हो चुका है। सीबीआई द्वारा दाखिल चार्जशीट की मानें तो किंगफिशर एयरलाइन्स ने आर्इडीबीआर्इ से प्राप्त 900 करोड़ रुपए के लोन में से 254 करोड़ रुपए निजी इस्‍तेमाल में खर्च किए हैं। अक्टूबर 2012 में किंगफिशर एयरलाइन्स बंद हो गई थी आैर दिसंबर 2014 में फ्लाइंग परमिट भी रद कर दिया गया था।

Published On:
Mar, 27 2018 11:09 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।