इस कांग्रेस नेता पर पैसे लेकर यह काम करने का लगा गंभीर आरोप, भेजा मानहानि का नोटिस

By: Karishma Lalwani

Updated On: Jan, 19 2019 01:11 PM IST

  • किसानों के लिए आया हुआ यूरिया सीधा उन तक न पहुंच कर व्यापारियों को ब्लैक मार्केट में बेच दिया जाता है

ललितपुर. जनपद में यूरिया घोटाले का बड़ा मामला सामने आने से हड़कंप मच गया है। किसानों के लिए आया हुआ यूरिया सीधा उन तक न पहुंच कर व्यापारियों को ब्लैक मार्केट में बेच दिया जाता है। इस मामले में सीबीआई जांच की मांग करते हुए कांग्रेस ने मुख्यमंत्री से कार्रवाई की मांग की है। हालांकि, अपने बचाव में एक व्यापारी अनिल डोगरा ने कांग्रेस पर ही गंभीर आरोप लगाकर मानहानि का नोटिस भेजा है।

छवि धूमिल करने की कोशिश

जानकारी के अनुसार जिला कांग्रेस कमेटी ने पीसीएफ परिवहन ठेकेदार अनिल डोगरा पर आरोप लगाया है कि उन्होंने किसानों के लिए आई हुई 16 मीट्रिक टन खाद को सहकारी समिति तक न पहुंचा कर ब्लैक मार्केट में बेचा है। जिसकी उच्च स्तरीय जांच कराई जानी चाहिए। अपने ऊपर लगे आरोपों पर अनिल डोगरा ने कहा कि कांग्रेस कमेटी इस धरना प्रदर्शन से उनकी छवि धूमिल करने की कोशिश कर रही है। नगर कांग्रेस कमेटी के नगर अध्यक्ष हरी बाबू शर्मा पिछले कई दिनों से हमसे चंदा मांग कर रहे हैं। विगत दिवस भी वह अपने साथियों के साथ हमारे गोदाम पर आए थे और कर्मचारियों से पैसों की मांग कर रहे थे। पैसे न देने पर धरना प्रदर्शन कर जांच करने की बात कर रहे थे।

मानहानि का नोटिस भेजा

उन्होंने बताया कि इससे पहले भी सम्बन्धित अधिकारियों के द्वारा कई जांच हो चुकी है, जिसमें उन्हें क्लीन चिट मिल चुकी है। बावजूद इसके जब नगर अध्यक्ष को पैसा देने से मना किया गया, तो उन्होंने एक षड्यंत्र रच पर सुनियोजित तरीके से यह धरना प्रदर्शन किया। अनिल डोगरा ने बताया कि हमने भी उन आरोपों का कानूनी रुप से जवाब देकर छवि खराब करने के उद्देश्य से किये गए धरना प्रदर्शन मामले में नगर अध्यक्ष हरी बाबू शर्मा के खिलाफ एक मानहानि का नोटिस भेजा है।

Published On:
Jan, 19 2019 12:45 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।