बीजेपी राज में ही भाजपा विधायक हैं असुरक्षित, सड़क पर उतरकर जताएंगे विरोध

By: Sarweshwari Mishra

Published On:
Sep, 12 2018 12:14 PM IST

  • अपने को पीड़ित महसूस कर रहें है भाजपा विधायक व जिलाध्यक्ष, दी है आंदोलन की चेतावनी

कुशीनगर. अपनी ही सरकार में अपने उत्पीड़न की शिकायत लेकर आज मंगलवार को भाजपा के विधायक, कार्यकर्ता डीएम व एसपी से मिले। सत्ताधारी दल के विधायकों, कार्यकर्ताओं का आरोप है सपाईयों द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। सपा के सह पर काम करने व भाजपा कार्यकर्ताओं को पीटने का आरोप भी भाजपा नेताओं ने पुलिस पर मढ़ा । इनका कहना था कि जब विधायक तक सुरक्षित नहीं हैं तो कार्यकर्ता कहा सुरक्षित होगा। इनकी पीड़ा का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि भाजपा जिलाध्यक्ष व विधायकों ने स्पष्ट रूप से चेतावनी दी है कि यदि तय सीमा में पुलिस दोषी सपाईयों पर कार्रवाई नहीं करती है तो सभी विधायक व कार्यकर्ता सड़क पर उतर कर आंदोलन करने में भी संकोच नही करेंगे।

 

 


अब तक यही कहा जाता रहा है कि जिस पार्टी की सत्ता रहती है उसी पार्टी के नेताओं की शासन- प्रशासन में चलती है लेकिन आज सत्ताधारी दल के विधायक पवन केडिया, रजनीकांत मणि, रामानंद बौद्ध व भाजपा जिलाध्यक्ष जयप्रकाश शाही कार्यकर्ताओं के साथ उत्पीडन की शिकायत लेकर डीएम व एसपी से मुलाकात की। उनका सीधा- सीधा आरोप था कि सपाईयों द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं व नेताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है।सपाईयो पर कार्रवाई करने की बजाय उल्टे पुलिस भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न कर रही है। रामकोला थाना के माघी मठिया में श्रीकृष्ण डोल के दौरान श्रद्धालुओं पर लाठीचार्ज, 10 सितम्बर को हाटा कस्बे के बाघनाथ चौराहे पर सपाईयों व पुलिस द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं की पिटाई, 4 सितबंर को हाटा के विधायक पवन केडिया के साथ हुईं घटना यह बता रही है कि भाजपा के नेता, कार्यकर्ता उत्पीड़न के शिकार हो रहे हैं.। भाजपा के जिलाध्यक्ष जयप्रकाश शाही ने स्पष्ट रूप से कहा कि इधर कुछ दिनों से हो रही घटनाएं अब हमें चुप नहीं बैठने दे रही है। यदि पूर्व मंत्री राधेश्याम सिंह व अन्य सपाई यों पर पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो हम अपनी सरकार में सड़क पर उतरने से संकोच नहीं करेंगे.। भाजपा जिलाध्यक्ष ही विधायक पवन केडिया, विधायक रजनीकांत मणि, भासपा विधायक रामानंद बौद्ध ने भी आंदोलन करने की स्पष्ट रूप से आंदोलन की चेतावनी दी है।विधायक रामानंद बौद्ध ने यहा तक कह दिया कि स्थिति बेहद गंभीर है.।जब भाजपा विधायक ही नहीं सुरक्षित हैं तो कार्यकर्ता कहां सुरक्षित रहेगा।

By- AK Mall

Published On:
Sep, 12 2018 12:14 PM IST