बेटे की मौत से हुआ झूठ का पर्दाफाश, सच जान पिता के उड़े होश, पढि़ए, मौत से नौकरी का कनेक्शन

Murder, Suicide, Suspected death : बूंदी जिले में युवक की दर्दनाक मौत ने झूठ से पर्दा हटाया तो सच जानकर पिता के होश उड़ गए।

बूंदी. रामगंजबालाजी. सदर थाना क्षेत्र के रेलवे ओवर ब्रिज के नीचे रविवार सुबह एक युवक के फंदे से लटके हुए मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पर पुलिस के अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे और लोगों की मदद से शव नीचे उतारा। पुलिस को शाम तक मौत के कारणों का पता नहीं चला। पुलिस और प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कोटा जिले के बूढ़ादीत थाना क्षेत्र के बगावदा गांव निवासी अजय मीणा (21) बीते चार माह से घर वालों को रेलवे में नौकरी लगने की बात कहकर बूंदी के देवपुरा स्थित पूजा विहार कॉलोनी में किराए का मकान लेकर रह रहा था। दिवाली की छुट्टियों पर युवक घर पर गया और वापस घर से रेलवे में ड्यूटी होने की बात कहकर बूंदी लौटा था। रविवार सुबह लोगों को रेलवे ओवर ब्रिज के नीचे फंदे से युवक की लाश लटकी दिखी, जिसकी सूचना कंट्रोल रूम को दी गई।सूचना पर पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सतनाम सिंह, एसटी एससी सेल के पुलिस उप अधीक्षक ओमेंद्र सिंह शोखावत, प्रशिक्षु वृत्ताधिकारी धर्मेंद्र व सदर थानाधिकारी लोकेंद्र पालीवाल मौके पर पहुंचे।

Read More: बड़ी खबर: कोटा में एक ही रात 6 गोवंशों की दर्दनाक मौत, जिंदा गायों की आंखें नोंच रहा 'वो'...

जहां आसपास के लोगों की मदद से लाश को नीचे उतारा और एम्बुलेंस से बूंदी जिला अस्पताल पहुंचाया। पुलिस को युवक की जेब से मिले मोबाइल फोन के आधार पर परिजनों को सूचना दी। तब परिजनों के आने के बाद मृतक का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया गया। सदर थाने के एएसआई सत्यनारायण पाराशर ने बताया कि मृतक के मौत के कारणों का पता नहीं चला। मामले में मृग दर्ज कर जांच शुरू
कर दी।


रेलवे में मचा हड़कंप
रेलवे में मृतक के नौकरी की बात पर कोटा मंडल रेलवे में हड़कम्प मंच गया। रेलवे अधिकारियों ने आनन-फानन में कोटा से चितौडगढ़़ तक के रेलवे स्टेशनों पर युवक के बारे में जानकारी जुटाई, लेकिन युवक के रेलवे में नौकरी करने की पुष्टि नहीं हुई। तब अधिकारियों ने राहत महसूस की।

weather Update: हाड़ौती में फिर से बदला मौसम, कोटा में बादलों की गर्जना के साथ एक घंटे से तेज बारिश का दौर जारी

परिजनों के मिलने से करता रहा टालमटोल
युवक बीते चार माह से बूंदी में किराए के मकान में रह रहा था। पिता ने कई बार पुत्र से मिलने के प्रयास किए, लेकिन युवक मिलने से टालमटोल करता रहा। बताया जा रहा है कि मृतक परिजनों को नौकरी के नाम पर गुमराह करता रहा।


...तब लगी पिता को झूठ की भनक
रेलवे में नौकरी की बात से परिजन खुश थे, लेकिन बार-बार पैसे मांगने पर पिता को शंका होने लगी थी। अभी तीन-चार दिन पहले अजय ने गांव के आढ़तिया से 50 हजार रुपए ऑनलाइन खाते में डलवाए। तब पिता को इस बात की जानकारी लगी तो पूछने पर अजय ने पढ़ाई के खर्चें के लिए पैसे लेने की बात कहकर टाल दिया।

Read More: चंबल में फिर दिखा उदबिलाव का जलवा, 2 परिवार के 10 सदस्यों ने बाढ़ से संघर्ष कर कायम रखा अपना वजूद

रेलवे में नौकरी की कहकर रह रहा था किराए पर
मृतक के पिता सुरेश मीणा ने बताया कि अजय 1 जुलाई 2019 को बूंदी रेलवे में गु्रप-बी में सलेक्शन होने की बात कहकर नौकरी के लिए घर से चला गया था। यहां देवपुरा पूजा विहार कॉलोनी में किराए के मकान में रह रहा था।मकान मालिक से भी युवक ने रेलवे में नौकरी की बात कही थी।


झांडिय़ों में मिली बाइक
पुलिस को युवक की बाइक घटना स्थल से कुछ दूरी पर झांडिय़ों के बीच मिली। मृतक की तलाशी के दौरान पुलिस को जेब में से बाइक की चाबी मिली थी। उसी आधार पर पुलिस ने आसपास बाइक को तलाशा। हाइवे पेट्रोलिंग इंचार्ज रामसहाय गुर्जर व कर्मचारियों ने हाइवे की एम्बुलेंस से शव को बूंदी के जिला अस्पताल में पहुंचाया।

Show More
​Zuber Khan
और पढ़े
Web Title: Youth Dead Body Found in Bundi. Murder, Suicide
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।