पिता-पुत्र पर आधा दर्जन लोगों ने किया तलवारों से जानलेवा हमला

By: Haboo Lal Sharma

|

Published: 15 May 2021, 10:20 PM IST

Kota, Kota, Rajasthan, India

कोटा. कोटा ग्रामीण क्षेत्र के देवली मांझी थाना क्षेत्र के चौमा मालियान (बीबू) गांव निवासी पिता-पुत्र पर आधा दर्जन लोगों ने गुरुवार देर रात तलवारों से जानलेवा हमला कर दिया। गंभीर घायलों को लोग देवलीमांझी थाने ले गए, जहां से कैथून अस्पताल में भर्ती कराया। घायलों की गम्भीर हालात होने पर कैथून से कोटा रैफर कर दिया। परिजनों ने दोनों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया है।
सरपंच भीमराज मीणा ने बताया कि गुरुवार रात मौमा बीबू निवासी आनन्दीलाल मालव व बेटा हिमांशु गांव के पास ही पपीते के बगीचे में रखवाली कर रात 11 बजे घर लौट रहे थे। रास्ते में पन्नालाल मालव के मकान के बाहर आधा दर्जन लोग पत्थर फेंक रहे थे, गाली गलौच कर रहे थे। इसी दौरान दोनों पिता-पुत्र पर लोगों ने तलवारों से हमला कर दिया। हमले में आनन्दीलाल मालव जो पहले सरपंच भी रह चुके हैं, उनके सिर में तलवार के हमले से गहरा घाव हो गया और दोनों हाथों में भी तलवार की गम्भीर चोटें आई। बेटे हिमांशु के सिर में तलवार के हमले से दो गहरे घाव हो गए। सूचना पर ग्रामीण दोनों को देवलीमांझी थाने ले गए। वहां से उन्हें पुलिस ने कैथून अस्पताल में भर्ती कराया। गम्भीर हालत होने पर कोटा रेफर कर दिया। आनन्दीलाल के सिर में 16-17 टांके आए हैं और दायां हाथ फैक्चर होने से रॉड डाली गई है, वहीं हिमांशु के सिर में 16 टांके आए हैं।

गवानी नहीं देने के लिए गांव में धमका रहे आरोपी
प्राणघातक हमले के आरोपी अब ग्रामीणों को गवाही नहीं देने के लिए धमका रहे हैं। गवाही देने पर गोली मारने की धमकी दे रहे हंै। गांव के ही पन्नालाल मालव ने थाने में दी रिपोर्ट में बताया कि शुक्रवार रात 11 बजे करीब 16-17 लोग आए और घर के बाहर घूमकर चले गए। इसके बाद एक युवक बाइक पर आया और गाली गलौच कर गवाही नहीं देने के लिए धमकियां देकर गया। उसने कहा कि गवाही दी तो गोली मार देंगे। इसके बाद रात दो बजे फोन किया। फोन नम्बर जाना पहचाना नहीं होने से उसे उठाया नहीं। आरोपी गांव में भी लोगों को गवाही नहीं देने के लिए धमका रहे हैं। पन्नालाल ने फोन नम्बर पुलिस को उपलब्ध कराया है। उसने बताया कि आरोपियों से उसकी और घायलों की कोई दुश्मनी नहीं है।

आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करेंगे
देवलीमांझी थानाधिकारी रामवतार शर्मा ने बताया कि पीडि़त पक्ष ने हेमराज मीणा, कालूलाल मीणा, दिनेश मीणा, मुकेश मीणा, प्रमोद मीणा व भैरूलाल सुमन के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है। शनिवार को कोटा जाकर निजी अस्पताल में बयान दर्ज किए हैं। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद मेडिकल मुआयना करवाया जाएगा। गवाही देने पर गोली मारने की शिकायत दर्ज कर है। पन्नालाल को रात्रि में जिस नम्बर से फोन आया था, उसकी डिटेल निकलवा रहे हैं। आरोपियों को शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।