हजारों लोगों के सामने राहुल गांधी से किए वादे से भी मुकर गए गहलोत...

By: Rajesh Tripathi

Updated On: Jul, 10 2019 07:54 PM IST

 
  • कोटा को लगा आईआईटी जैसा झटका, एयरपोर्ट के
    लिए नहीं हुई जमीन आवंटन की घोषणा

     

कोटा. गहलोत सरकार के पहले बजट में कोटा संभाग में दो बड़े प्रोजेक्ट के लिए 1050 करोड़ का आवंटन हुआ है। हालांकि उम्मीदों के अनुरूप हाड़ौती को बजट नहीं मिला। संभाग के कोटा, बूंदी और बारां जिले को कुछ न कुछ मिला है, लेकिन झालावाड़ जिला बजट में खाली रह गया।

संसद भवन के कायाकल्प में जुटे स्पीकर बिरला, स्वच्छता पर रहेगा विशेष फोकस..

नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल के उत्तर विधानसभा क्षेत्र में चम्बल रिवर फ्रंट विकसित किया जाएगा। इसके लिए पहले चरण में बजट में 400 करोड़ रुपए देने की घोषणा की है लेकिन कोटा की सबसे बड़ी और पुरानी मांग को दरकिनार कर दिया है. दरअसल कोटा वासियों को एयरपोर्ट के लिए जमीन आवंटन की उम्मीद थी लेकिन बजट में इसके लिए कोई घोषणा नहीं करके गहलोत ने कोटा को आईआईटी वाला दर्द दिया है। गौरतलब है कि गहलोत के पिछले कार्यकाल में कोटा में प्रस्तावित आईआईटी को वे जोधपुर ले गए थे। इसके बाद उनका जमकर विरोध हुआ था और इसे मुद्दा बनाकार भाजपा 2013 के विधानसभा चुनावों में हाड़ौती की सभी सीटें जीतने में कामयाब रही थी।

चुनावी सभा में राहुल ने किया था वादा
2018 के चुनावों में कोटा में आयोजित सभा में राहुल गांधी ने कोटा में एटरपोर्ट बनवाने का जिक्र किया था । इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी को भी इसके लिए चिठ्ठी लिखी थी। इसके बाद हुए लोकसभा चुनावों में भी राहुल ने इसे मुद्दा बनाया था और कोटा में अपने संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से एयरपोर्ट के लिए जमीन देने का वादा करने को कहा था। गहलोत ने हजारों को तादाद में मौजूद जनता के सामने जमीन आवंटन की घोषणा की थी। मास्टर प्लान में शम्भुपुरा में जमीन भी एयरपोर्ट के लिए आरक्षित रखी गई थी, लेकिन बजट में इस बारे में कोई बात नहीं की गई, जबकि कई जगहों पर नई हवाई पट्टियां बनाने की घोषणा की है।


यह कहा था राहुल ने
राहुल ने उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट का जिक्र करते हुए कहा, जब हम कोटा आ रहे थे तो सचिन ने कहा, कोटा में हवाई अड्डा बनाना मुश्किल है। इस पर सचिन से मुखातिब होते हुए राहुल ने कहा, यह ऑप्शन नहीं है, कोटा को देश-दुनिया से जोडऩे के लिए हवाई अड्डा बनाना ही है।

Published On:
Jul, 10 2019 07:52 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।