चुनाव खत्म होते ही टारगेट पूरा करने उतरी आरटीओ की टीम, प्राइवेट कर्मचारी से करा रहे जांच, रसीद की जगह थमा रहे टोकन

By: Ram Prawesh Wishwakarma

Published On:
Dec, 24 2018 05:57 PM IST

  • लक्ष्य पूरा करने डेढ़ माह में ढाई लाख जुर्माना वसूला, परिवहन उडऩदस्ता की टीम रोजाना राष्ट्रीय राजमार्ग-४३ पर कर रही कार्रवाई

बैकुंठपुर/पटना. परिवहन विभाग की उडऩदस्ता टीम विधानसभा चुनाव के बाद सड़क पर उतरी है और अपने टारगेट पूरा करने सघन जांच अभियान चला रखा है। इस दौरान अपने राजस्व के लक्ष्य को पूरा करने के लिए पिछले करीब डेढ़ महीने में 2.57 लाख जुर्माना वसूला गया है।

ऐसी चर्चा है कि विभाग द्वारा प्राइवेट कर्मचारियों से काम लिया जा रहा है तथा वाहन चालकों से जुर्माना वसूल कर विभागीय रसीद की जगह सादे कागज का टोकन पकड़ाया जा रहा है। इधर आरटीओ अधिकारी नियमानुसार कार्रवाई होने की बात कह रहे हैं।


जानकारी के अनुसार सड़क परिवहन उडऩदस्ता प्रभारी प्रताप सिंह धु्रव के नेतृत्व में अलग-अलग क्षेत्रों में लगातार सघन जांच अभियान चलाया गया है। इस दौरान भारी वाहनों के कागजात, बीमा, परमिट, माल लोड की क्षमता सहित अन्य दस्तावेज की जांची जा रही है।

वर्तमान में सप्ताहभर से पटना, डूमरिया, भाड़ी, नागपुर क्षेत्र सहित मनेंद्रगढ़ के घुटरीटोला तक भारी वाहनों की चेंकिंग की जा रही है। उडऩदस्ता टीम में पिछले करीब डेढ़ महीने में 2.57 लाख रुपए जुर्माना के तौर पर वसूला है। परिवहन विभाग का कहना है कि बिना दस्तावेज, ओवरलोड लेकर चलने वाले भारी वाहनों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी रहेगी।


उडऩदस्ता टीम में प्राइवेट कर्मचारी रखने की चर्चा
जानकारी के अनुसार परिवहन विभाग में स्टाफ की भारी कमी है। ऐसे में उडऩदस्ता टीम में 4 प्राइवेट कर्मचारी रखकर भारी वाहनों के दस्तावेज सहित अन्य जांच व कार्रवाई करने का आरोप लगाया गया है।

उडऩदस्ता टीम में प्रभारी अकेले ही हैं और फिल्ड में जाने के लिए प्राइवेट कर्मचारियों की मदद ली जाती है। विधानसभा चुनाव खत्म होने के बाद उडऩदस्ता टीम सड़क पर सक्रिय हो चुकी है। कड़कड़ाती ठण्ड में सुबह 6 बजे से सड़क पर कार्रवाई करती नजर आती है।


जुर्माना रसीद की जगह टोकन पकड़ाया
परिवहन उडऩदस्ता टीम द्वारा भारी सहित अन्य वाहनों में कुछ कमी मिलने के बाद जुर्माना वसूला जाता है लेकिन रसीद की जगह सादे कागज में लिखकर टोकन पकड़ाने की चर्चा है।

उसी टोकन के आधार भारी वाहनों से वसूलने की बात कही जा रही है। वाहन चालकों का कहना है कि हर महीने उक्त राशि को एंट्री फीस के तौर पर बताया जाने लगा है।

कोरिया में माल लोड कर प्रवेश करने पर 4500 रुपए देना पड़ता है, जिसमें 1500 रुपए मेकेनिकल फीस की रसीद शामिल है। वहीं ओवरलोड होने पर 3000 रुपए एंट्री फीस देनी पड़ता है। ऐसा नहीं करने पर कोरिया की सीमा में प्रवेश प्रतिबंधित करने की चर्चा है।


नियमानुसार हो रही है कार्रवाई
उडऩदस्ता टीम नियमानुसार कार्रवाई कर रही है। नवंबर व दिसंबर महीने में करीब 2.57 लाख जुर्माना वसूला गया है। सादे कागज में टोकन देने के संबंध में जानकारी मिली है। वाहन चालकों को जुर्माना राशि की बकायदा रसीद दी जाती है।
अरविंद भगत, एआरटीओ कोरिया

Published On:
Dec, 24 2018 05:57 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।