पश्चिम बंगाल सीएम ममता बनर्जी का मोदी पर इस तरह जारी रहा पलटवार

By: Prabhat Kumar Gupta

Published On:
Apr, 10 2019 05:14 PM IST

  • तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो तथा पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बेरोजगारी और एनआरसी समेत कई अन्य मुद्दे को लेकर पीएम नरेन्द्र मोदी पर एक बार फिर तीखा प्रहार किया है।

 

-कहा, 5 साल में दो करोड़ लोग हुए बेरोजगार

-कूचबिहार, अलीपुरदुआर और रायगंज के सभा मंच से दिया हुंकार

कोलकाता.

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो तथा पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बेरोजगारी और एनआरसी समेत कई अन्य मुद्दे को लेकर पीएम नरेन्द्र मोदी पर एक बार फिर तीखा प्रहार किया है। उत्तर बंगाल के चुनावी सभा मंच से केंद्र सरकार के खिलाफ खूब गरजीं।

उन्होंने कहा कि 5 साल के मोदी शासन में देश में करीब 2 करोड़ लोग बेरोजगार हुए हैं। किसानों की हालत खस्ता है। किसानों के आत्महत्या करने की घटनाएं भी बढ़ी हैं, पर पीएम इस पर कुछ नहीं बोल रहे हैं। चुनाव के मद्देनजर नेताओं के बयान में तुर्शियां नजर आ रही हैं और वो एक दूसरे के खिलाफ जमकर वार कर रहे हैं लेकिन कभी कभी इसको लेकर भाषाई मर्यादा का भी ख्याल नहीं रखा जाता है। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कूचबिहार की एक रैली में पीएम पर वार किए।उत्तर बंगाल की जनता को मोदी के बहकावे में नहीं पडऩे का आह्वान करते हुए ममता ने कहा कि नोटबंदी देश का सबसे बड़ा घोटाला है। रफाल एयरक्राफ्ट डील पर बड़े पैमाने पर रिश्वतखोरी हुई है। देश की ज्वलंत मुद्दों को दरकिनार कर मोदी पश्चिम बंगाल में आकर यहां की सरकार से कैफियत मांग रहे हैं, सारधा और नारदा पर सवाल उठा रहे हैं। ममता ने कहा कि सारधा चिटफण्ड घोटाले की पिछले ५ साल से सीबीआई जांच के बावजूद प्रकृत आरोपी सामने नहीं आया। देश की जनता इससे पहले इतना असत्य पीएम कभी नहीं देखा। उन्होंने पीएम पर सेना को लेकर राजनीति करने का भी आरोप लगाया। मोदी के मुंह को सर्जिकल टेप से बंद करने का आह्वान-पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनर्जी ने चुनावी सभा में पीएम मोदी पर कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी की है। भीड़ को सम्बोधित करते हुए कहा कि मोदी को सत्ता और राजनीति से बाहर करना चाहिए और उनके मुंह को सर्जिकल टेप से बंद कर देना चाहिए। ‘इस चुनाव में लोग उनके होठों पर ल्यूकोप्लास्ट चिपका देंगे ताकि वह झूठ ना बोल पाएं। देश की खातिर उन्हें ना केवल कुर्सी (प्रधानमंत्री पद) बल्कि राजनीति से भी बाहर करना चाहिए।’ ममता ने कहा कि मोदी के पास किसानों और मध्यम वर्ग की समस्याओं पर ध्यान देने का वक्त नहीं था क्योंकि वह अपने पांच साल के कार्यकाल में साढ़े चार साल दुनिया ही घूमने में व्यस्त रहे।

डराने-धमकाने की राजनीति कर रहे मोदी-

बनर्जी ने आरोप लगाया कि जब चुनाव नजदीक आ रहे हैं तो मोदी हर किसी को डरा-धमका रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि अगर झूठ बोलने की कोई प्रतियोगिता हुई तो मोदी को उसमें पहला पुरस्कार मिलेगा। कूचबिहार जिले में रविवार को प्रधानमंत्री की इस टिप्पणी पर कि बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) मोदी के भय की मानसिकता से पीड़ित हैं, पर पलटवार करते हुए बनर्जी ने उन्हें आगाह किया कि वह उन्हें धमकाएं नहीं क्योंकि ऐसा करना उनकी सबसे बड़ी भूल होगी।

Published On:
Apr, 10 2019 05:14 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।