माझेरहाट ब्रिज: एसआईटी ने मांगी जानकारी

By: Rakesh Mishra

Updated On:
12 Sep 2018, 08:34:33 PM IST

  • संयुक्त पुलिस आयुक्त (क्राइम) प्रवीण त्रिपाठी ने बताया कि दो दिन पहले इन दोनों संस्थाओं को पत्र लिखा गया

 

कोलकाता
माझेरहाट ब्रिज हादसे की जांच के लिए गठित एसआईटी ने लोक निर्माण विभाग (पीडब्लूडी) व मेट्रो रेल को पत्र लिखकर कई जानकारियां मांगी है। संयुक्त पुलिस आयुक्त (क्राइम) प्रवीण त्रिपाठी ने बताया कि दो दिन पहले इन दोनों संस्थाओं को पत्र लिखा गया है। इन संस्थाओं से जल्द -जल्द जानकारी उपलब्ध कराने को कहा गया है। त्रिपाठी ने बताया कि पीडब्लूडी से माझेरहाट ब्रिज का नक्शा व ब्रिज की मरम्मत व रखरखाव का विवरण मांगा गया है । मेट्रो रेल से मेट्रो प्रोजेक्ट का नक्शा, पिलर की पायलिंग व माझेरहाट ब्रिज के पास मेट्रो के कामकाज की जानकारी मांगी गई है। जांच पूरी होने तक माझेरहाट ब्रिज इलाके में मेट्रो प्रोजेक्ट के काम को बंद रखने का निर्देश दिया गया है। त्रिपाठी ने बताया कि माझेरहाट ब्रिज हादसा की वजह क्या है? फॉरेसिंक रिपोर्ट व संस्थाओं के मांगी गई जानकारी के बाद स्पष्ट हो पाएगा। मालूम हो कि माझेरहाट ब्रिज ५४ साल पुराना पुल है। प्राथमिक जांच में अनुमान लगया जा रहा है कि क्षमता से ज्यादा वाहनों के लगातार बढ़ते दबाव की वजह से ब्रिज टूट गया। गत मंगलवार को शाम ४ बजे माझेरहाट ब्रिज टूट गया था। इस दुर्घटना में तीन लोगों की मौत हुई थी। राज्य सरकार ने मृतकों के लिए ५ लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों के लिए १ लाख व जख्मी होने वालों को ५० हजार रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने माझेरहाट ब्रिज हादसे की जांच के लिए कोलकाता पुलिस के वरीय अधिकारियों के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया है
-----------------------------

 

kolkata west bengal

फॉब्ला पार्टी के पास मिले शव की पहचान नहीं

- सिर पर चोट लगने से मौत का अनुमान

कोलकाता

फॉरवर्ड ब्लॉक पार्टी कार्यालय (सेन्ट्रल एवेन्यू ) की दीवार के पास मिले अज्ञात व्यक्ति के शव की शिनाख्त अभी नहीं हो पाई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार व्यक्ति के सिर पर चोट लगने से उसकी मौत हुई है। यह मामला हत्या है का है या हादसा ? इसकी जांच कोलकाता पुलिस की होमीसाइड टीम कर रही है। टीम हत्या की आशंका से इंकार नहीं कर रही है। गौरतलब है कि रविवार को फाब्ला पार्टी कार्यालय इलाके में दुर्गंध फैलने पर स्थानीय लोगोंं ने रविवार को जानकारी बऊबाजार थाने को दी थी। मृतक कौन है व कहां का रहने वाला है? इस मामले में फारवर्ड ब्लॉक के नेताओं से पूछताछ की गई है। पार्टी के लोगों के अनुसार शनिवार से दुर्गन्ध मिल रही थी, लेकिन यह अनुमान नहीं था कि यह दुर्गंध किसी मृत व्यक्ति के शव से आ रही है। पार्टी के लोगों का कहना है कि दफ्तर के ग्राउंड फ्लोर में चूहों की भरमार है। चूहों के मरने से गंध निकलने का अनुमान लगाया जा रहा था।

Updated On:
12 Sep 2018, 08:34:33 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।