अस्थिरता के लिए केंद्र दोषी-ममता

Shankar Sharma

Publish: Oct, 12 2017 12:21:39 (IST)

Kolkata, West Bengal, India

श्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दार्जिलिंग में अस्थिरता के लिए केंद्र को दोषी ठहराया है

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दार्जिलिंग में अस्थिरता के लिए केंद्र को दोषी ठहराया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शांति विघ्र करने के प्रयासों को बर्दाश्त नहीं करेगी। झाडग़्राम में राजगंज कालेज मैदान में आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने जंगलमहल के साथ-साथ पहाड़ के लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि वे शांति विघ्नित करने वाली किसी भी अफवाह और भडक़ाऊ बातों पर ध्यान ना दें।


मुख्यमंत्री ने कहा कि २०१२ के बाद से पहाड़ पर शांति थी, दिल्ली के भडक़ाने के कारण वहां पिछले कई दिनों तक शांति भंग हुई थी। पहाड़ पर फिर से शांति लौटी है। जंगलमहल के लोगों को उन्होंने शांति की रक्षा करने के लिए एकजुट रहने का अनुरोध किया। भाजपा शासित झारखण्ड में आदिवासियों की जमीन से संबंधित कानून में संशोधन का हवाला देते हुए ममता ने कहा कि भगवा सरकार आदिवासियों का जमीन लेकर उनमें अलगाव पैदा कर रही है।


उन्होंने कहा कि झारखण्ड में भाजपा के कार्यकाल में आदिवासी सम्प्रदाय मुश्किल में है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल ऐसा राज्य है जहां सभी धर्म के लोग एक साथ निवास करते हैं।


गुजरात में ऊंची जाति के लोगों द्वारा एक दलित की पीट कर हत्या करने की घटना का जिक्र करते हुए ममता ने कहा कि उक्त दलित का जुर्म बस सिर्फ इतना ही था कि उसने दशहरा पर गरबा देखने गया था। इस तरह की घटना राजस्थान, मध्य प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों में आम है पर पश्चिम बंगाल में दलित, अल्पसंख्यक और आदिवासी सम्प्रदाय को सरकार काफी महत्व देती है।


झाडग़्राम में विवि. खोलने का भरोसा
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने झाडग़्राम में विश्व विद्यालय खोलने का भरोसा दिया है। राजगंज कॉलेज मैदान के सभा मंच से उन्होंने १२६ करोड़ की लागत से २०३ विभिन्न योजनाओं का उद्घा्टन किया। इनमें नयाग्राम में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, ब्लड बैंक, झाडग़्राम जूलोजिकल पार्क शामिल है।

Web Title "Center for instability is guilty-Mamta"