शामनगर नार्थ जूट मिल में दुर्घटना, मजदूर का हाथ कटा

By: Nirmal Mishra

Published On:
Sep, 12 2018 06:52 PM IST


  • - मजदूरों ने मुआवजे की मांग पर किया प्रदर्शन

    - प्रबंधन ने बंद की मिल

    - पांच हजार मजदूर हुए बेरोजगार

हुगली. भद्रेश्वर स्थित शामनगर नार्थ जूट मिल में सोमवार की रात नाईट शिफ्ट के दौरान लूम विभाग के एक मजदूर का हाथ मशीन से कट गया। घायल मजदूर को सारी रात एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल ले जाया गया। मंगलवार को उसे एक निजी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत संगीन है। इस पूरी घटना को लेकर मिल के मजदूरों ने मंगलवार को मिल के गेट पर घायल मजदूर को मुआवजा दिए जाने की मांग पर प्रदर्शन व नारेबाजी की। वहीं बढ़ता तनाव देखकर मिल प्रबंधन ने मिल का कामकाज बंद कर दिया। इस वजह से ५ हजार मजदूरों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है।

सह श्रमिकों के मुताबिक घायल मजदूर का नाम किशोर पासवान है। वह जूट मिल के लूम विभाग में काम करता था। उसे दुर्घटना के तुरंत बाद पहले गौरहाटी ईएसआई अस्पताल फिर वहां से कोलकाता ले जाया गया लेकिन सारी रात एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल आने जाने में ही समय कट गया। किसी तरह से मंगलवार को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसका कटा हाथ नहीं जोड़ा जा सकता। चिकित्सकों ने प्रभावित इलाके में संक्रमण की आशंका जताते हुए पूरा हाथ काटने की सलाह दी है।

 

हावड़ा में कई जगहों पर जलजमाव

हावड़ा
हावड़ा नगर निगम की पोल मंगलवार को सुबह हुई 35 मिनट की बारिश ने खोल दी। बारिश से जीटी रोड, राम लाल मुखर्जी लेन, फकीरबागान, नंदी बागान बाई लेन, धर्मतल्ला रोड, बनारस रोड, बाबूडांगा, काली मजूमदार रोड, छोटे लाल मिश्रा रोड, सत्यबाला टेलीफोन एक्सचेंज, गुलमोहर रेलवे क्वार्टर, टण्डेल बागान रेलवे क्वार्टर इलाकों में जल जमाव हुआ। पंचाननतल्ला रोड, नेताजी सुभाष रोड, ड्रेनेज कैनाल रोड, शालीमार, मंदिरतल्ला सहित मध्य हावड़ा व दक्षिण हावड़ा अंचल भी जल जमाव से अछूता नहीं रहा। हावड़ा नगर निगम के मेयर डॉ रथीन चक्रवर्ती ने बताया कि सुबह जल जमाव हुआ था धीरे धीरे पानी निकल गया है। एक दो जगहों पर कहीं कहीं जलजमाव है।

Published On:
Sep, 12 2018 06:52 PM IST