लोकसभा में गूंजा अंडरपासों में पानी भरने का मुद्दा

By: Kali Charan kumar

Updated On:
11 Jul 2019, 11:04:42 AM IST

  • सदन में सांसद भागीरथ चौधरी ने उठाया मुद्दा
    डीएफसीसी और रेलवे की ओर से बनाए गए है अंडरपासों

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मदनगंज-किशनगढ़. लोकसभा के शून्यकाल में सांसद भागीरथ चौधरी ने अजमेर संसदीय क्षेत्र में डीएफसीसी के तहत निर्माणाधीन रेलवे अंडरपासों में भरे बारिश के पानी का मुद्दा उठाया। उन्होंने बताया कि अंडरपासों में आए दिन वर्षा का पानी भर जाने से आमजन को होने वाली समस्या से अवगत कराया। उन्होंने सदन में बताया कि अजमेर संसदीय क्षेत्र में केन्द्र सरकार की महत्वपूर्ण योजना दिल्ली-मुबई मालभाड़ा गलियारा योजना के तहत डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का कार्य गत 4-5 वर्षो से चल रहा है। उक्त योजना के तहत संसदीय क्षेत्र के आने वाले गांवों एवं शहरी क्षेत्र के रेलवे स्टेशनों के आस-पास में अंडरपासों का निर्माण किया गया है।इससे ग्रामीण और राहगीरों के साथ पशुपालकों को भी आवाजाही सुगम एवं सुलभ आवागमन का मार्ग उपलब्ध हो। इसके बावजूद अंडरपासों के अंदर और आस-पास के क्षेत्रों में पानी भरने से आवागमन अवरूद्ध हो जाता है। उक्त अंडरपासों की गहराई भी 10-12 फीट होने के कारण बारिश के तीन-चार दिन बाद तक पानी भरा रहने से आवाजाही पूरी तरह से बंद हो जाती है। हालांकि वर्तमान में डीएफसीसी एवं रेल विभाग की ओर से अंडरपासों पर वैकल्पिक व्यवस्था कर मोटर पंप, टिल्लू पंप आदि लगाकर अंडरपासों में जमा पानी को बाहर निकाला जा रहा है। इसमें भी दो-तीन दिन लग जाते है। सांसद चौधरी ने रेलमंत्री से अजमेर संसदीय क्षेत्र के साखुन, साली, गहलोता, तिलोनिया, मंडावरिया, सांवतसर, कृष्णापुरी, किशनगढ़, परासिया, गेगल, मुहामी, लाडपुरा क्षेत्र, अजमेर शहर के मदारपुरा, किरानीपुरा, सुभाषनगर क्षेत्र, ब्यावर खंड के सुभाष नगर, दौराई, सराधना, मकरेड़ा, मांगलियावास, दौलतखेड़ा, लमाना एवं खरवा क्षेत्र के अंडरपासों में बारिश का पानी भर जाता है। उन्होंने उक्त अंडरपासों में बारिश एवं अन्य पानी भरने की समस्या का स्थाई समाधान करने एवं अंडरपासों पर टीनशेड निर्माण के लिए आवश्यक सक्षम विभागीय क्रियान्विति कराकर स्थानीय और आमजन की आवाजाही को सुगम मार्ग उपलब्ध कराने की मांग की। सांसद चौधरी ने अजमेर लोकसभा क्षेत्र के साथ इस योजना के तहत देश के अन्य राज्यों में भी इस प्रकार की समस्या पर आमजन को तुरंत राहत दिलाने की बात कही।

Updated On:
11 Jul 2019, 11:04:42 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।