जल है तो कल है...

By: Satyendra Sharma

Published On:
Aug, 12 2019 09:39 PM IST

  • विद्यालयों में चलाया जा रहा है जलशक्ति अभियान
    पानी को लेकर जागरूकता बढ़ाने पर जोर

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मदनगंज-किशनगढ़.
क्षेत्र के विद्यालयों में छात्र-छात्राओं के बीच जल शक्ति संचयन अभियान के अंतर्गत पानी को लेकर जागरूकता बढ़ाई जा रही है। इसके अंतर्गत पेड़-पौधे लगाने, पोस्टर प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, ग्रामीणों-क्षेत्रवासियों में प्रचार प्रसार आदि का आयोजन किया जा रहा है।
केंद्र सरकार के जल शक्ति मंत्रालय एवं राज्य सरकार के निर्देशानुसार जलशक्ति अभियान का प्रथम चरण १५ सितंबर तक चलाया जाएगा। गत माह से शुरू हुए इस अभियान के अंतर्गत अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों में ग्रामीणों को जागरूक करने के लिए रैली निकालने सहित जल संचय के लिए प्रेरित करने आदि आयोजन किए गए है। जिन राजकीय एवं निजी विद्यालयों में चारदीवारी बनी हुई है उन विद्यालयों को पौधरोपण के निर्देश दिए गए है। प्राथमिक विद्यालय में २५, उच्च प्राथमिक विद्यालय में ५०, माध्यमिक विद्यालय में ७५ और उच्च माध्यमिक विद्यालय में १०० पौधे लगाने के निर्देश दिए है। बहुत से विद्यालयों ने अपनी चारदीवारी और जहां स्थान उपलब्ध हुआ वहां पौधरोपण किया है। इन पौधों के रखरखाव की जिम्मेदारी विद्यालय प्रशासन, विद्यार्थियों और ग्रामीणों की रहेगी। माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में इसके लिए जल शक्ति क्लब का संचालन करने के निर्देश दिए गए है। विद्यालयों की प्रार्थना सभा और बालसभा में भी विभिन्न गतिविधियां संचालित की गई है।
ताकि मिले शुद्ध पेयजल
इस अभियान का मूल उद्देश्य शुद्ध पेयजल की आपूर्ति बढ़ाना है। यह तभी संभव हो सकता है जब अधिक से अधिक लोग पानी बचाने और पानी के सदुपयोग को लेकर जागरूक हो। इसके लिए हरियाली बढ़ाना भी जरूरी है। इस अभियान से लोगों में पेयजल को लेकर जागरूकता बढ़ेगी और पानी का महत्व पता चलेगा। इससे पानी का संचय करने का कार्य कई जगह शुरू होगा।
अन्य विभागों को भी निर्देश
जलशक्ति अभियान को लेकर उपखंड अधिकारी की ओर से महिला एवं बाल विकास विभाग, वन विभाग, जलदाय विभाग, सिंचाई विभाग, कृषि विभाग और वाटर शेड अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए है।

Published On:
Aug, 12 2019 09:39 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।