ट्रैक्टर का बिगड़ा संतुलन, रास्ता छोड़ इंदिरा सागर नहर में गिरा, युवक की मौत

खरगोन जिला मुख्यालय से करीब 12 किमी दूर ग्राम ठिबगांव से रामपुरा मार्ग पर गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात दर्दनाक हादसा हो गया। यहां एक ट्रैक्टर चालक युवक वाहन सहित इंदिरा सागर नहर में जा गिरा। हादसे में उसकी मौत हो गई। युवक ग्राम रामपुरा का रहने वाला है और प्रायवेट ट्रैक्टर शोरूम पर काम करता था।
मृतक निर्मल के पिता भगवान यादव ने बताया निर्मल (22) गुरुवार शाम करीब 6 बजे ट्रैक्टर लेने के लिए बड़वाह गया था। उसे यह ट्रैक्टर खरगोन लेकर आना था, रात अधिक होने से वह ट्रैक्टर को गांव लेकर आ रहा था। इस दौरान यह हादसा हो गया। इसी रास्ते से देर रात रामपुरा के कुछ युवक ग्राम टेमा से शादी समारोह में शामिल होकर लौट रहे थे। उन्होंने नहर में ट्रैक्टर को देखा। उसके इंडीकेटर जल रहे थे। उन्होंने शंका जाहिर की और निर्मल के परिवार को इसकी सूचना दी। अंधेरा ज्यादा होने से ग्रामीणों ने सुबह का इंतजार किया। शुक्रवार सुबह सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों के सहयोग से ट्रैक्टर और निर्मल के शव को बाहर निकाला।
पिता गए थे सिंचाई करने
निर्मल के पिता भगवान ने बताया बीती रात वह सिंचाई के लिए खेत पर गए थे। सूचना के बाद से ही मन में डर था कि कहीं यह निर्मल न हो। लेकिन शुकवार सुबह उसका शव देखा तो पैरों तले से जमीन खिसक गई। भगवान ने बताया निर्मल उनका इकलौता बेटा था।
गांव में छाया मातम
सूचना के ग्राम में मातम पसर गया। निर्मल के साथियों को भी इस घटना का गहरा अफसोस है। गांव के शिवशंकर ने बताया निर्मल मिलनसार और मृदुभाषी था। गुरुवार शाम को ही उसे गांव में देखा। समीपस्थ ग्राम कुंडिया की एक शादी में भी वह बड़वाह से लौटते समय कुछ देर के लिए रुका था।
गांव से आधा किमी दूर हुआ हादसा
ग्रामीणों ने बताया जहां यह हादसा हुआ वह स्थान गांव से महज आधा किमी दूर है। निर्मल को वाहनों का अच्छा अनुभव था, यह हादसा कैसे हो गया यह बात ग्रामीणों के गले नहीं उतर रही। उधर, निर्मल के परिवार का इस हादसे के बाद बुरा हाल है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।