कटनी से बने नई ट्रेन, गुजरने वाली सभी रूकें और वाशिंग पिट का हो निर्माण

By: raghavendra chaturvedi

|

Updated: 13 Feb 2021, 10:05 AM IST

Katni, Katni, Madhya Pradesh, India

कटनी. जंक्शन के तीन प्रमुख रेलवे स्टेशन (कटनी मुख्य स्टेशन, कटनी मुड़वारा और कटनी साउथ) को रेल यात्रियों के लिए पैदल व छोटे वाहनों से समान के साथ आवागमन कनेक्टिविटी उपलब्ध कराने के साथ ही कटनी में वाशिंग पिट निर्माण की मांग नागरिक लंबे असरे से कर रहे हैं। रेल यात्रियों ने बताया कि कटनी में एक दशक पहले तक वाशिंग पिट थी, जिसे अचानक बंद कर दिया गया। वाशिंग पिट नहीं होने के कारण यहां से ट्रेनें नहीं बन पाती है। इसका सीधा नुकसान जंक्शन से अलग-अलग पांच दिशाओं में यात्रा करने वाले यात्रियों को हो रहा है।

ढांचागत विकास के साथ यात्री सुविधाओं पर ध्यान देने की मांग
रेल बजट में कटनी ग्रेड सेपरेटर, कटनी-सिंगरौली डबल लाइन और कटनी-बीना तीसरी लाइन के लिए 1103 करोड़ रूपये का प्रावधान किए जाने के बाद रेल यात्रियों ने रेल अफसर ढांचागत विकास पर तो ध्यान दे रहे हैं, लेकिन कटनी जंक्शन से प्रतिदिन लाखों की तादात में सफर करने वाले यात्रियों की समस्या की अनदेखी की जा रही है।

जानिए क्या कहा शहर के वरिष्ठजनों ने
- रेलवे के अफसर मालभाड़ा पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। कटनी में आने वाले समय में बढ़ते यात्री दबाव को ध्यान में रखकर काम करना चाहिए। ग्रेड सेपरेटर एक तरह का बाईपास है। इससे स्टेशन में यात्री ट्रेनों की आवाजाही सुलभ होगी। रेलवे को कटनी से गुजरने वाली ट्रेनों की टाइमिंग ऐसी रखनी होगी, जिससे यहां आने वाले व्यापारियों को खरीददारी में सहूलियत हो।
सुधीर मिश्रा प्रदेश सचिव मध्यप्रदेश लघु उद्योग संघ।

- शहर के लिए रेलवे जरूरी अंश है। सबसे पहले तो तीनों स्टेशनों को रेलवे सीमा के अंदर से बेहतर कनेक्टिविटी पर ध्यान देना होगा। कटनी साउथ रेलवे स्टेशन में दूसरे हिस्से में प्लेटफार्म विस्तार और सड़क से शहर को जोडऩे पर काम करना चाहिए। यहां बड़ी संख्या में रेलवे के कर्मचारी इस शहर में हैं, उनके लिए सुविधायुक्त रेलवे अस्पताल का विस्तार जरूरी है।
शशांक श्रीवास्तव पूर्व महापौर कटनी।

- कटनी में पहले से ही वाशिंग पिट थी, जिसे बंद कर दिया गया। वाशिंग पिट चालू किया जाए, ताकि कटनी से ट्रेनें प्रारंभ होने पर धुलाई और दूसरे कार्य हो सकें। जब ट्रेनें चलती हैं तो कई ट्रेनें यहां बिना रूके ही चली जाती है। सांसद को इस बारे में विचार करना चाहिए कि कटनी से गुजरने वाली सभी ट्रेनें यहां रूके। जंक्शन होने के कारण इससे यात्रियों का सफर आसान होगा।
गुमान सिंह ग्रामीण जिलाध्यक्ष कांग्रेस कटनी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।