कलेक्टर जाम में क्या फंसे, सुबह होते ही बसों के प्रवेश पर लगवा दिया प्रतिबंध

By: Dharmendra Pandey

Updated On:
24 Aug 2019, 10:35:38 PM IST

  • नई व्यवस्था: अब जबलपुर, स्लीमनाबाद की तरफ से आने वाली बसें पीरबाबा बाइपास होकर जाएंगी बस स्टैंड
    झिंझरी मोड़ से आगे नहीं जा पाएंगी बिलहरी की तरफ से आने वाली बसें

कटनी. कलेक्टर जाम में क्या फंसे, शुक्रवार सुबह होते ही शहर में बसों के प्रवेश का रूट ही बदलवा दिया। शुक्रवार को जबलपुर, स्लीमनाबाद की तरफ से शहर आने वाली बसें पीरबाबा बाइपास से पन्ना मोड़ होते हुए बस स्टैंड पहुंचीं। जबकि बहोरीबंद-बिलहरी मार्ग से शहर आने वाली बसों को झिंझरी मोड़ पर ही रोका दिया गया। बताया जा रहा है कि कलेक्टर माधवनगर गेट के पास दोनों तरफ खड़ी बसों के कारण जाम की समस्या को महसूस किया।ं उन्होंने गुरुवार रात एआरटीओ को फोन लगाया और बसों का शहर प्रवेश पर रोक लगवा दिया। निर्देश के पालन में शुक्रवार सुबह जितेंद्र सिंह बघेल, दुर्गेश तिवारी व सुखेंद्र तिवारी सहित परिवहन विभाग के दूसरे कर्मचारी शहर में आने वाली बसों को पीरबाबा बाइपास से रीवा बाइपास होते हुए बस स्टैंड जाने को कहा।

व्यवस्था बदलते ही ऐसे परेशान हुए आमजन
20 किलोमीटर ज्यादा चक्कर- जबलपुर, स्लीमनाबाद की तरफ से आने वाली बसों को रीवा बाइपास होते हुए प्रियदर्शनी बसस्टैंड पहुंचने में 20 किलोमीटर ज्यादा चक्कर लगाना पड़ा। पहले ये बसें माधवनगर गेट तक जाती थीं। इससे यात्रियों को समय बर्बाद हुआ और माधवनगर व शहर के दूसरे हिस्से में आने वाले लोगों को भी परेशानी हुई।

अधिक किराया और ऑटो नहीं मिलने से हुए परेशान- शहर में बसों का प्रवेश अचानक रुक जाने के कारण सबसे अधिक बिलहरी की तरफ से आने वाले यात्रियों को परेशानी हुई। पाठक वार्ड, भ_ा मोहल्ला, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, माधवनगर और बिलहरी मोड़ सहित आसपास के रहवासियों को सात किलोमीटर दूर बसस्टैंड से गंतव्य तक पहुंचने के लिए ऑटो ढूंढऩे परेशान होना पड़ा। कई ऑटो चालकों ने ज्यादा किराया लिया।

बलात्कार के आरोपी को बचाने बड़े भाई ने पीडि़ता का किया अपहरण, जिले की इस महिला पुलिस अफसर ने निकाला खोज, जानिए कैसेhttps://www.patrika.com/katni-news/elder-brother-kidnapped-victim-to-save-rape-accused-5001347/

 

आरटीओ के जाते ही गायब हुए ट्रैफिक पुलिस कर्मी
जबलपुर-स्लीमनाबाद की तरफ से आने वाली बसें शहर में प्रवेश न करें इसके लिए परिवहन अमले ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी को बाइपास में रुकने के लिए कहा था। जब तक परिवहन अमला वहां पर खड़ा रहा तब तक ट्रैफिक पुलिसकर्मी ड्यूटी पर तैनात रहा। अमले के जाते ही वहां से गायब हो गया। तभी बसें शहर के भीतर प्रवेश करने लगी। जिस पर परिवहन अमले फिर से यातायात प्रभारी को जानकारी दी और बसों का प्रवेश रुकवाया।

-शहर में आए दिन लग रहे जाम से आमजनों को हो रहीं परेशानी को मैंनें महसूस किया। पुलिस और आरटीओ को निर्देश दिए हंै कि बसों का शहर के अंदर प्रवेश रोकने व जाम से नागरिकों को निजात दिलाने दूसरी व्यवस्था की जाए।
एसबी सिंह, कलेक्टर।


-माधवनगर गेट के पास बसों के खड़ा होने के लिए पहले चिन्हित स्थान में जाम की स्थिति निर्मित रही है। कलेक्टर के निर्देश पर जबलपुर, स्लीमनाबाद व बिलहरी की तरफ से आने वाली बसों का शहर में प्रवेश रुकवाया गया। यह व्यवस्था फ्लाइ ओवर ब्रिज के निर्माण तक जारी रहेगी।
एमडी मिश्रा, एआरटीओ।

Updated On:
24 Aug 2019, 10:35:38 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।