48 में 26 आवेदन स्वीकृत पर मदद एक साल बाद भी नहीं

कटनी. सरकारी योजना का लाभ जरुरतमंद परिवारों को समय पर दिलाने में नगर निगम के अधिकारी लगातार लापरवाही बरत रहे हैं। अधिकारियों की मनमानी के कारण कई परिवार योजना का लाभ लेने के लिए एक साल से नगर निगम कार्यालय के चक्कर लगाने विवश हैं।

ऐसा ही एक मामला माधवनगर का है। इसमें पुत्र विजय पंजवानी के निधन के बाद अनुग्रह सहायता राशि के लिए मां रेखा पंजवानी एक साल से ज्यादा समय से नगर निगम के चक्कर लगा रहीं हैं। बतादें कि नया सवेरा योजना में अनुग्रह और अंत्येष्टि सहायता राशि के लिए 48 से ज्यादा परिवारों ने आवेदन किया था।

इसमें से नगर निगम ने अधिकारियों ने 26 का आवेदन ही स्वीकृत किया। इनको भी समय पर राशि का भुगतान नहीं किया गया। पीडि़त परिवार कार्यालय के चक्कर लगाते परेशान हैं। इधर जिन 22 आवेदकों का आवेदन निरस्त किया गया है उन परिवारों का कहना है कि योजना में पंजीयन होने के बाद सभी को अनुग्रह सहायता राशि देनी चाहिए।

राशि नहीं मिलने से परेशान परिवारों का कहना है कि समस्या लेकर आयुक्त आरपी सिंह के पास जाने पर वे हर बार जल्द राशि दिलवाने की बात कहते हें, लेकिन राशि नहीं दिलवा रहे हैं। नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारी नया सवेरा योजना में जरुरतमंद परिवारों को लाभ दिलाने में लगातार लापरवाही बरत रहे हैं। इस संबंध में आयुक्त आरपी सिंह ने बताया कि योजना में हितग्राहियों को जल्द राशि प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।