दरगाह की आड़ में अवैध हथियर बनाने का कारखाना, लोकसभा चुनाव में खून खराबे की तैयारी

By: suchita mishra

Updated On: Mar, 09 2019 05:45 PM IST

  • पटियाली पुलिस ने एक बार फिर अवैध हथियारों की फैक्ट्री पर छापामार कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में बने और अधबने असलाहों के अलावा हथियार बनाने वाले उपकरण बरामद किये हैं।

कासगंज। पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार के लाख प्रयास के बावजूद भी जिले में खून खराबे को अवैध हथियार बनाये जा रहे हैं। जिले की पटियाली पुलिस ने एक बार फिर अवैध हथियारों की फैक्ट्री पर छापामार कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में बने और अधबने असलाहों के अलावा हथियार बनाने वाले उपकरण बरामद किये हैं। फिलहाल पुलिस ने एक फैक्ट्री संचालक को गिरफ्तार कर लिया है। हथियार बनाने वाले दो कारीगार मौके से फरार हो गये। यह हथियार लोकसभा चुनाव में खून खराबे के लिए तैयार किए जा रहे थे।

दरगाह के पीछे छापामारी
पटियाली थाना पुलिस ने भरगैन औरंगाबाद रोड पर चिश्ती बाबा की दरगाह के पीछे छापामार कार्रवाई की। इस दौरान पुलिस ने घेराबंदी कर कदीर को गिरफ्तार कर लिया, जबकि धर्मेन्द्र उर्फ फूले, उदयवीर सिंह निवासी भरगैन मौके से भगाने में सफल रहे। पुलिस ने मौके से तीन तमंचे, 315 बोर के डमी कारतूस के अलावा भारी मात्रा में बने और अधबने हथियारों को जखीरा बरामद किया है। एसपी अशोक कुमार ने तीनों को पूछताछ के बाद जेल भेजने के निर्देश दिए।

अब तक 17 कारखाने पकड़े
आपको बता दें कि कासगंज जिले में खून खराबे के लिए उद्योग धंधों की तरह चल रही अवैध हथियार फैक्टरियों को पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने चार्जभार ग्रहण करने के बाद से ही समूल नष्ट करने का संकल्प लिया था। उन्होंने अब तक कार्रवाई करते हुए 17 शस्त्र फैक्ट्ररियों का भड़ाफोड़ कर दर्जन भर शस्त्र बनाने वालों को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया। पुलिस ने सैकड़ों बने और अधबने हथियार भी बरामद किए हैं। इसके बावजूद पुलिस का अवैध हथियार फैक्टरियों का समूल नष्ट करने के लिए सर्च ऑपरेशन चलता रहा।

Published On:
Mar, 09 2019 05:26 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।