एक वर्ष में ही ध्वस्त हो गई चारदीवारी

By: Vinod Sharma

Published On:
Jul, 11 2019 10:26 PM IST

  • मासलपुर. खेडिय़ा ग्राम पंचायत के मैंगरा कला गांव में करीब ६ लाख रुपए की राशि खर्च कर बनाई गई श्मशान की चारदीवारी महज एक साल में ही जगह जगह से गिरकर क्षतिग्रस्त हुई है।


ग्रामीणों में रोष
मासलपुर. खेडिय़ा ग्राम पंचायत के मैंगरा कला गांव में करीब ६ लाख रुपए की राशि खर्च कर बनाई गई श्मशान की चारदीवारी महज एक साल में ही जगह जगह से गिरकर क्षतिग्रस्त हुई है।
आरोप है कि चारदीवारी निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग किया गया। जिसके चलते चारदीवारी क्षतिग्रस्त हो गई।
गौरतलब है कि मैंगराकला गांव ग्राम पंचायत द्वारा वर्ष २०१८ में करीब ६ लाख रुपए की लागत से श्मशान की चारदीवारी एवं टीन शैड का निर्माण कराया गया था, लेकिन महज एक साल के भीतर टीन शैड जमींदोज हो गया एवं चारदीवारी भी जगह-जगह से फैल कर क्षतिग्रस्त हो गई है।
ग्रामीण तेजसिंह जादौन, श्यामासिंह जादौन, ब्लू सिंह जादौन, दिनेश शर्मा, शंभूसिंह, रामकुमार शर्मा व छगनसिंह ने बताया, कि निर्माण कार्य में घटिया सामग्री के उपयोग में लिए जाने के कारण चारदीवारी महज एक साल भी नहीं चल पाई। चारदीवारी क्षतिग्रस्त होने के कारण श्मशान में आवारा पशु विचरण कर रहे हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि बार-बार शिकायत के बाद भी प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। ग्रामीणों के जिला प्रशासन से जांच कराए जाने की मांग की है।
विद्युत अधिकारियों के खिलाफ लगाए नारे
नया ट्रांसफार्मर लगवाने की मांग
गढमोरा. कस्बे के तमोली मोहल्ले में 10 दिन से सिंगल फेस का ट्रांसफॉर्मर फुंक जाने के बाद से उसके स्थान पर नया ट्रांसफॉर्मर नहीं लगाया गया है।
बिजली निगम के कर्मचारी ट्रांसफार्मर को उतार तो ले गए लेकिन नया ट्रांसफार्मर नहीं रखा है। इस कारण से लोग गर्मी में बिना बिजली परेशान होते हैं। बिना पंखे रात में मच्छर सोने नहीं देते। दिन में पसीने से तरबतर होते रहते हैं। बिना बिजली के इलाके में पानी का संकट भी बना हुआ है।

लोगों को दूरदराज से पानी लाकर प्यास बुझानी पड़ रही है। इस समस्या से परेशान लोगों ने प्रदर्शन कर बिजली निगम के अधिकारियों के खिलाफ नारे लगाकर प्रदर्शन किया इस दौरान जैकी शर्मा, रमेश शर्मा, राजमल जैन, हरि माली ,प्रकाससोनी,। बतू माली , मनोहरी माली आदि ने मौजूद रहे।

 

Published On:
Jul, 11 2019 10:26 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।