निलम्बित हेड कांस्टेबल एसीबी रिमाण्ड पर

By: Vikas Choudhary

Updated On:
12 Jul 2019, 12:57:45 AM IST

  • - बजरी डम्पर संचालन के बदले रिश्वत व मासिक बंधी का मामला

जोधपुर.
बजरी डम्पर संचालक से बीस हजार रुपए रिश्वत मामले में निलम्बित हेड कांस्टेबल को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो साठ दिन तक गिरफ्तार नहीं कर पाई थी। जबकि वह जोधपुर व आस-पास ही मौजूद था। अग्रिम जमानत याचिका पर हाईकोर्ट की कड़ी फटकार के बाद उसने कोर्ट में समर्पण किया था। अदालत ने गुरुवार को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के रिमाण्ड पर भेज दिया गया है।
एसीबी के अनुसार प्रकरण में आरोपी निलम्बित हेड कांस्टेबल तेजाराम मेघवाल को एसीबी मामलात की विशेष अदालत में पेश कर रिमाण्ड मांगा गया। मजिस्ट्रेट ने निलम्बित हेड कांस्टेबल को पांच दिन के रिमाण्ड पर भेजने के आदेश दिए। उससे ब्यूरो की अजमेर चौकी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चन्द्रप्रकाश शर्मा पूछताछ करेंगे। फिलहाल उपाधीक्षक पूछताछ कर रहे हैं।
गौरतलब है कि बजरी डम्पर मालिक से बीस हजार रुपए रिश्वत लेते उप निरीक्षक गजेन्द्रसिंह को रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। हेड कांस्टेबल तेजाराम मेघवाल व संदिग्ध भूमिका के कारण तत्कालीन थानाधिकारी व निलम्बित पुलिस निरीक्षक संजय बोथरा गायब हो गए थे। छह दिन बाद सीआई बोथरा पुलिस के समक्ष पेश हुए थे। दूसरे ही दिन पीएल अवकाश पर चले गए थे। वो अभी तक गायब है। सीबीआई तलाश कर रही है। उधर, एसीबी कोर्ट से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद हेड कांस्टेबल को निलम्बित कर दिया गया था।

Updated On:
12 Jul 2019, 12:57:45 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।