पुलिस के  इस रवैये को लेकर फूटा आक्रोश, नौ घण्टे बाद उठाया शव

By: pawan pareek

|

Published: 25 Aug 2019, 08:06 AM IST

Jodhpur, Jodhpur, Rajasthan, India

लवेरा बावड़ी (जोधपुर) . राईकोरिया गांव के नाबालिग की शुक्रवार रात को मौत हो गई। नाबालिग बच्चे से दुष्कर्म व पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई न करने व बच्चे की मौत के बाद ग्रामीणों व परिजनों का गुस्सा भडक़ गया। शनिवार को साढ़े नौ बजे ग्रामीण व परिजन शव लेकर उपखण्ड कार्यालय बावड़ी आ गए और पुलिस कार्यप्रणाली के विरोध में शव को रखकर विरोध प्रदर्शन करने लगे।

 

नाबालिग से दुष्कर्म करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से पुलिस के खिलाफ गुस्सा फूटा। उपखण्ड कार्यालय के आगे दिए धरने एवं विरोध प्रदर्शन में पंसस गोपाल भाकर, चंदनसिंह भाटी, गौतमचन्द भण्डारी, हरीराम खुडख़ुडिय़ा, घमण्डाराम, अर्जुनराम, उगराराम, तोगाराम, सुनिल विश्नोई, धनाराम, महेन्द्र माचरा, चूनाराम बेरा, महिपाल, महेन्द्र समेत अनेक लोगों ने आरोपियों को गिरफ्तार करने, गरीब परिवार को 20 लाख की आर्थिक सहायता देने, थानाधिकारी द्वारा कार्रवाई नहीं करने के कारण तुरन्त निलंबित करने, परिजन को सरकारी नौकरी देने तथा शव का मेडिकल बोर्ड द्वारा पोस्टमार्टम करवाने की मांग रखी।

 

भोपालगढ़ विधायक पुखराज गर्ग, रालोपा जिला संयोजक राजूराम खोजा, पंसस भागीरथ नैण, सुभाष कडवासड़ा के साथ ही वृताधिकारी ओसियां दिनेश कुमार ,उपखण्ड अधिकारी हेताराम चौहान, तहसीलदार धन्नाराम गोदारा, खेड़ापा थानाधिकारी केसाराम मौके पर पहुंचे। विभिन्न वार्ताओं का दौर चलने के बाद शाम साढ़े पांच बजे मामला शांत हुआ।

 

उपखण्ड अधिकारी हेताराम चौहान ने उच्च अधिकारियों से बातचीत के बाद विधायक व अधिकारियों की मौजूदगी में बताया कि पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया हैं और पीड़ित को पांच लाख की सहायता देने, सरकारी नौकरी दिलाने के साथ ही मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने की सहमति प्रदान की। करीब नौ घण्टे के धरने के बाद शाम साढ़े पांच बजे शव को पोस्टमार्टम के लिए जोधपुर भेजा गया।

 

गौरतलब है कि खेड़ापा थाने में जुलाई में रायकोरिया निवासी महिला ने रिपोर्ट दी कि करीब एक साल पहले प्रेमाराम व श्रवणराम ने उसके लडक़े के साथ अप्राकृतिक मैथून किया। इससे लडक़े को बीमारी लग गई। इतने दिन बीत जाने के बावजूद कार्रवाई नहीं होने पर जिला पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) को भी ज्ञापन दिया। शुक्रवार को उसकी मौत के बाद परिजनों का गुस्सा फूट गया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।