राजस्थान के इस मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों ने किया शिक्षकों के खिलाफ प्रदर्शन

By: Kanharam Mundiyar

Updated On: Mar, 02 2019 09:42 PM IST

 
  • -परीक्षा से वंचित रहे मेडिकल विद्यार्थियों ने किया प्रदर्शन, आंदोलन की चेतावनी
    -एसएन मेडिकल कॉलेज में 42 विद्यार्थियों को परीक्षा से वंचित करने का मामला गर्माया

जोधपुर.
डॉ. एस.एन. मेडिकल कॉलेज जोधपुर में फाइनल इयर की परीक्षा से वंचित किए गए विद्यार्थियों ने लगातार दूसरे दिन शनिवार को भी प्रदर्शन किया और अपनी मांगों के नहीं माने जाने पर आंदोलन करने की चेतावनी दी। विद्यार्थियों के शिष्टमंडल ने प्राचार्य डॉ. एस.एस. राठौैड़ से मुलाकात भी की और अपना पक्ष रखा। मेडिकल कॉलेज के छात्र संघ पदाधिकारियों के नेतृत्व में विद्यार्थियों ने कॉलेज के मुख्य भवन के सामने नारेबाजी की और कॉलेज के दो शिक्षकों को उनकी जिम्मेदारी से हटाने की मांग की। उधर कॉलेज के शिक्षकों का कहना है कि विद्यार्थियों की उपस्थिति शॉर्ट थी, इसलिए उन्हें परीक्षा से वंचित किया गया था।


छात्र संघ पदाधिकारियों के साथ ज्ञापन सौंपने के दौरान विद्यार्थियों ने मांग नहीं माने जाने की दशा में आंदोलन करने की चेतावनी भी दी है। ज्ञापन में बताया कि 6 जून को बैच 2013 यानि फाइनल इयर की परीक्षा हॉल में बैठने के बाद 42 विद्यार्थियों को एकेडमिक इंचार्ज व इन्टरनल एक्जामिनर ने उठा दिया था। ज्ञापन में विद्यार्थियों ने आरोप लगाया कि दोनों ही अधिकारियों ने यह कार्रवाई द्वेषभावना से की।

विद्यार्थियों ने बताया कि दोनों अधिकारियों ने विद्यार्थियों को 75 प्रतिशत उपस्थिति के आरोप में परीक्षा से वंचित किया गया, उसमें भी कॉलेज की गफलत हुई। विद्यार्थियों को बिना किसी पूर्व सूचना अथवा नोटिस के एनवक्त पर परीक्षा से उठा दिया गया। इनमें ऐसे कई विद्यार्थी भी थे, जिनकी उपस्थिति पूरी थी, लेकिन उनके खिलाफ भी कार्रवाई कर दी।

कॉलेज प्रशासन ने जून 2018 में हुई परीक्षा में वर्तमान नियमों की बजाय वर्ष 2003 के नियमों का हवाला देकर कार्रवाई कर दी, जबकि कॉलेज प्रशासन ने जनवरी में हुई परीक्षा में वर्तमान नियम ही लगाए। जिससे प्रतीत होता है कि कॉलेज प्रशासन ने पूर्व की कार्रवाई द्वेषभावना से की। इस संबंध में कॉलेज प्राचार्य डॉ. राठौड़ का कहना रहा कि मामला कोर्ट मेें विचाराधीन है। कोर्ट के फैसले से पहले कुछ भी कार्रवाई नहीं हो सकती।

Published On:
Mar, 02 2019 09:42 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।