जोधपुर में अगले वर्ष शुरू होगा वेटरनरी कॉलेज

By: Gajendra Singh Dahiya

Published On:
Jul, 10 2019 11:59 PM IST

  •  

    - प्रदेश के चौथे व संभाग के पहले वेटरनरी कॉलेज को बजट में मिली मंजूरी
    - कॉलेज में होंगे 15 विभाग, 60 सीटों के लिए मिलेगा प्रवेश

जोधपुर. संभाग का पहला और प्रदेश का चौथा पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान महाविद्यालय जोधपुर में खोला जाएगा। इसके लिए संभवत: मण्डोर रोड पर जगह चिह्नित की जा रही है। महाविद्यालय में बैचलर ऑफ वैटेनरी साइंस एण्ड एनिमल हसबेंडरी (बीवीएससी एण्ड एएच) का 60 सीटों का पहला बैच अगले साल शुरू होने की उम्मीद है। अब तक बीकानेर, जयपुर और उदयपुर में ही वेटरनरी कॉलेज था। जोधपुर में कृषि विश्वविद्यालय शुरू होने के बाद से इसकी मांग की जा रही थी ताकि कृषि व पशु विज्ञान पर समन्वित शोध किया जा सके।

तीन मुख्य भवन बनेंगे
पशु विज्ञान महाविद्यालय में मुख्यत: अकादमिक भवन, क्लिनिकल कॉम्पलेक्स और पशु फार्म बनेगा। पशु फार्म में गाय, भैंस, बकरी, मुर्गी जैसे पालतु पशुओं के लिए शोध होगा। महाविद्यालय में 15 विभाग होंगे। सबसे पहले स्नातक स्तरीय पाठ्यक्रम शुरू होगा। स्नातकोत्तर और पीएचडी बाद में शुरू होगी। बीवीएससी एण्ड एएच डिग्री साढ़े पांच साल की होगी, जिसे भारतीय पशु चिकित्सा परिषद से मान्यता प्राप्त होगी। महाविद्यालय बीकानेर स्थित राजस्थान पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान महाविद्यालय से सम्बद्ध होगा।

कृषि व पशुपालन का होगा समग्र विकास
‘इस महाविद्यालय से जोधपुर संभाग में कृषि व पशुपालन का समग्र विकास होगा। पशु कल्याण योजना और पशु चिकित्सा की नई तकनीक पर भी कार्य होंगे।

प्रो. विष्णु शर्मा, कुलपति, राजस्थान पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय बीकानेर

Published On:
Jul, 10 2019 11:59 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।