अवैध बजरी परिवहन के आरोपी हैड कांस्टेबल की जमानत खारिज

By: MI Zahir

Updated On:
10 Jul 2019, 08:42:49 PM IST

 
  • जोधपुर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ( Anti corruption bureau ) की एक विशेष अदालत ( special court ) ने अवैध रूप से बजरी परिवहन करने के ( illegal gravel transport ) मासिक बंदी मामले में आरोपी ( accused of bribe ) हैड कांस्टेबल ( head constable ) की जमानत खारिज कर दी ( bail rejected ) है।

     

     

     

जोधपुर. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ( ACB ) की एक विशेष अदालत ( special court ) ने अवैध रूप से बजरी परिवहन करने के ( illegal Gravel transport ) मासिक बंदी मामले में आरोपी ( accused of bribe ) हैड कांस्टेबल ( head constable ) की जमानत खारिज कर दी ( bail rejected ) है।

जमानत मांगी थी

दस मई से एसीबी की गिरफ्त से दूर बासनी के आदर्श पुलिस थाने के हैड कांस्टेबल तेजाराम ने मंगलवार को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की विशेष अदालत के न्यायाधीश दीपककुमार के समक्ष समर्पण कर जमानत मांगी थी। अवैध रूप से बजरी परिवहन करने के मामले में मासिक बंधी के आरोपी तेजाराम के अधिवक्ता ने आरोपी को झूठा फंसाने की दलील देते हुए कहा कि आरोपी ने स्वयं कोर्ट में आकर आत्मसमर्पण किया है।

जमानत खारिज कर दी

इस पर विशिष्ट लोक अभियोजन अधिकारी एनके सांखला ने जमानत का विरोध करते हुए कहा कि आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका हाईकोर्ट से भी खारिज हो चुकी है और राजस्थान हाईकोर्ट ने एसीबी को उसे गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे। न्यायालय ने दोनों पक्षों को सुन कर आरोपी हैड कांस्टेबल तेजाराम की जमानत खारिज कर दी।

Updated On:
10 Jul 2019, 08:42:49 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।