अब जीवंतता की ओर कदम बढ़ाने लगा गुलाब सागर

By: Mahesh Soni

Updated On:
13 Aug 2019, 05:04:55 PM IST

  • पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
    फलोदी. शहर का प्राचीन व ऐतिहासिक जलस्रोत गुलाब सागर तालाब समय की मार व उपेक्षा के चलते तालाब अब सिर्फ एक मैदान रूप ले चुका था। एैसे में अब इस तालाब को फिर से जीवंत करने के लिए शहर के जागरूक लोगों द्वारा शुरू की गई मुहिम का असर अब दिखने लगा है और तालाब पर हो रहे कार्यों से अब तालाब जीवंत होने लगा है।

दरअसल वृक्षमित्र, शिवसर बचाओ संघर्ष समिति, नगरपालिका फलोदी, जेआरएस फाउंडेशन, समस्त महाजन संस्थान मुंबई, शहर के सामाजिक कार्यकर्ताओं व भामाशाहों के सहयोग से प्राचीन तालाब गुलाब सागर की दशा सुधारने के लिए जुलाई में शुरू की गई पहल से आमजन जुडऩे लगे हैं और हर तरफ से तालाब को जीवंत करने के लिए सहयोग मिल रहा है। इसकी बदौलत में पहले तालाब के क्षेत्र में उगी भारी मात्रा में झाडिय़ों की सफाई हुई और अब मैदान का रूप ले चुके इस तालाब को फिर से तालाब बनाने के लिए खुदाई की जा रही है।
रोजाना निकल रही है भारी मात्रा में मिट्टी-
२२ जुलाई से तालाब पर शुरू हुए कार्य में सबसे पहले यहां उगी भारी मात्रा में झाडिय़ों की सफाई की गई। इसमें नगरपालिका व समस्त महाजन संस्थान द्वारा उलब्ध करवाई गई जेसीबी से कार्य हुआ। उसके बाद २६ जुलाई से तालाब पर खुदाई कार्य शुरू किया गया। खुदाई में अब एस्कावेटर मशीन व डंपर भामाशाहों द्वारा उपलब्ध करवाए गए है। खुदाई के दौरान गत २ अगस्त को २८, ३ अगस्त को ३५, ४ अगस्त को ३०, ५ अगस्त को १८, ६ अगस्त को २०,७ अगस्त को ३५, ८ अगस्त को २९, ९ अगस्त को ३५ व १० अगस्त को ६० हजार घनफुट मिट्टी खुदाई करके बाहर निकाली गई। यह मिट्टी तालाब के चारों ओर ट्रैक की तरफ बिछाई जा रही है। यहां खुदाई शुरू होने के बाद अब तालाब अपने प्राकृतिक स्वरूप में लौटने लगा है। गुलाब सागर तालाब पर चल रहे कार्य में कार्यकर्ताओं की टीम के रमेश थानवी, रामदयाल थानवी, सम्पत चाण्डा, राजेश बोहरा, डॉ. दिनेश शर्मा, रमेश व्यास, मुरारीलाल थानवी, लक्ष्मीनारायण गुचिया, विजय पालीवाल, झूम्बरलाल जोशी, जयराम गज्जा,रविन्द्र जैन, राजेन्द्र चाण्डा, बृजमोहन बोहरा, दिलीप व्यास, कुंजबिहारी बोहरा, कैलाश गज्जा, इन्द्रप्रकाश जोशी, रमणलाल बोहरा, शिवनाथ थानवी सहित बड़ी संख्या में सामाजिक कार्यकर्ता सेवाएं दे रहे है और कार्य की नियमित देखरेख की जा रही है।
तालाब को देखने उमड़ रहे लोग-
तालाब का खुदाई कार्य शुरू होने के बाद लोग काफी उत्साह के साथ गुलाब सागर पंहुच रहे है तथा सहयोग कर रहे है। तालाब पर चल रहे कार्यों का एसडीएम व नगरपालिका ईओ ने भी अवलोकन किया है।
झील की तर्ज पर विकसित हो तालाब-
तालाब को जीवंत करने में जुटे कार्यकर्ताओं का कहना है कि गुलाब सागर तालाब का सरकारी स्तर पर झील की तर्ज पर विकास होना चाहिए। जिससे शहरवासियों के लिए भ्रमण स्थल उपलब्ध हो सके। (कासं)
-----------------

Updated On:
13 Aug 2019, 05:04:55 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।