आमिर खान ने जोधपुर के लिए देखा था सपना

By: MI Zahir

Published On:
Jul, 15 2019 03:29 PM IST

  • जोधपुर.मशहूर बॉलीवुड अभिनेता (bollywood actor ) आमिर खान ( Aamir khan ) मोदी सरकार ( pm modi ) के जल शक्ति अभियान ( jal shakti ) से जुडऩे की चर्चा के कारण फिर से सुर्खियों में छा गए हैं। वे नीता अंबानी के बर्थ डे में जोधपुर आए थे तो पांच साल पहले ‘क्लीन जोधपुर- ग्रीन जोधपुर’ ( Clean Jodhpur-Green Jodhpur ) अभियान के लिए जोधपुर आए थे और उसके बाद द ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान ( The Thugs of hindustan ) की शूटिंग ( Film Shooting ) के लिए भी जोधपुर आए थे। आमिर खान ने अपना जन्म दिन भी जोधपुर में ही मनाया था ( Aamir Khan birthday )।

     

     

जोधपुर.मिस्टर परफैक्शनिस्ट ( Mister Perfectionist ) के नाम से मशहूर बॉलीवुड अभिनेता (bollywood actor ) आमिर खान ( Aamir khan ) मोदी सरकार ( pm modi ) के जल शक्ति अभियान ( jal shakti ) से जुडऩे की चर्चा के कारण फिर से सुर्खियों में छा गए हैं। वे नीता अंबानी के बर्थ डे में जोधपुर आए थे तो पांच साल पहले ‘क्लीन जोधपुर- ग्रीन जोधपुर’ ( Clean Jodhpur-Green Jodhpur ) अभियान के लिए जोधपुर आए थे और उसके बाद द ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान ( The Thugs of hindustan ) की शूटिंग ( Film Shooting ) के लिए भी जोधपुर आए थे। आमिर खान ने अपना जन्म दिन भी जोधपुर में ही मनाया था ( Aamir Khan birthday ) ।

सॉलिड एंड लिक्विड रिसोर्स मैनेजमेंट
आमिर खान स्वाधीनता दिवस पर 15 अगस्त 2014 को शहर को कचरा मुक्त बनाने के लिए जिला प्रशासन और नगर निगम की अगुवाई में चलाए गए ‘क्लीन जोधपुर- ग्रीन जोधपुर’ अभियान के तहत सॉलिड एंड लिक्विड रिसोर्स मैनेजमेंट प्रोग्राम की शुरुआत के अवसर पर जोधपुर आए थे। उस वक्त उन्होंने उम्मेद स्टेडियम में आयोजित सार्वजनिक कार्यक्रम में शहर के बाशिंदों को जोधपुर साफ सुथरा रखने की शपथ दिलाई थी। तब जोधपुर के जिला प्रशासन ने जोधपुर को 18 महीने में साफ-सुथरा शहर बनाने का सपना देखा था। इस मुहिम में आमिर खान ने 11 लाख रुपए का अनुदान देने की घोषणा करते हुए कहा था कि वे भी जोधपुर का सपना साकार करने के लिए अपना छोटा सा सहयोग देना चाहते हैं।

जोधपुर प्रदेश में पहला शहर बना था
जोधपुर कचरा निस्तारण को लेकर पहल करने में हमेशा आगे रहा है, लेकिन पिछली एक भी योजना के परिणाम सुखद नहीं रहे। करीब १४ साल पहले सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट सिस्टम लागू करने वाला जोधपुर प्रदेश में पहला शहर बना था। पहले कनक और फिर रामकी कंपनी आई और कचरा निस्तारण का सपना दिखा कर चली भी गई। उस काम पर करीब 300 करोड़ से अधिक रुपए खर्च हुए, लेकिन कचरा मुक्त जोधपुर का सपना साकार नहीं हो पाया। नगर निगम के सफाईकर्मियों से भी यह काम नहीं हो सका। अब नए अभियान में कोई कंपनी यह काम नहीं कर पाई। शहर खुद अपना सपना साकार नहीं कर सका। इस पर प्रशासन या निगम के कोई पैसे भी खर्च नहीं हुए।

एेसे आया था कॉन्सैप्ट

दरअसल, दक्षिण भारत के वैल्लूर कस्बे में स्वयंसेवी संस्था से जुड़े सी. श्रीनिवासन ने सॉलिड एंड लिक्विड रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम से कस्बे को कचरा मुक्त करते हुए कचरे को उपयोगी भी बनाया था। आमिर खान के टीवी शो सत्यमेव जयते में सफलता की यह कहानी दिखाई गई थी। श्रीनिवासन जोधपुर के तत्कालीन जिला कलक्टर प्रीतम बी यशवंत के संपर्क में आए और यह कॉन्सैप्ट जोधपुर में लागू करने का मानस बनाया था।

यह सोचा था, सब धरा रह गया
तब सोचा गया था कि यदि यह योजना सफल हुई और जोधपुर कचरा मुक्त हो गया तो पूरे देश में एक मिसाल बनेगा। कचरे से जंग की इस कहानी से सभी प्रेरणा लेंगे। शहर में पर्यटन बढ़ेगा और सैलानियों के माध्यम से दुनिया भर में जोधपुर का नाम रोशन होगा।

---

यहां एेसे होना था काम
-2 वार्डों की 6 कॉलोनियों से अभियान की शुरुआत।

-2 बार दिन में होगा कचरा संग्रहण।
-18 माह में सभी 65 वार्ड में लागू होनी है योजना।

-300 करोड़ खर्च, तब तक कचरा संग्रहण की विभिन्न योजनाओं में।
-75 लाख रोजाना कचरे से कमाई का देखा था सपना।

-2 रिक्शा लगने थे हर वार्ड में कचरा एकत्रित करने के लिए।

See more जल शक्ति अभियान के सोशल मीडिया कैंपेन को मिल रही प्रशंसा, अमिताभ-आमिर जैसी हस्तियां भी जुड़ीं

See more अमिताभ-आमिर का संदेश, मोदी की सोशल मीडिया ताकत से जल शक्ति अब जनआंदोलन की राह पर

 

Published On:
Jul, 15 2019 03:29 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।