RPSC RAS Exam-2018: आयोग लेगा विधिक राय, फुल कमीशन में होगा फैसला

By: Sunil Sharma

Updated On:
03 Dec 2018, 01:02:44 PM IST

  • राजस्थान लोक सेवा आयोग RPSC RAS Pre Exam-2018 के परिणाम से जुड़े मामले में विधिक राय लेगा। फुल कमीशन की बैठक में चर्चा के बाद ही उच्च न्यायालय के आदेशानुसार फैसला किया जाएगा।

राजस्थान लोक सेवा आयोग RPSC RAS Pre Exam-2018 के परिणाम से जुड़े मामले में विधिक राय लेगा। फुल कमीशन की बैठक में चर्चा के बाद ही उच्च न्यायालय के आदेशानुसार फैसला किया जाएगा। आरएएस प्री.2018 परीक्षा का आयोजन इसी साल 5 अगस्त को किया गया था। इसका परिणाम 23 अक्टूबर को देर रात जारी हुआ। इसमें सामान्य वर्ग की कट ऑफ 76.06 और ओबीसी की कट ऑफ 99.33 गई।

आरएएस प्रारंभिक परीक्षा-2018 की कट ऑफ को लेकर याचिका लगाई गई। इसमें बताया गया कि सामान्य की कट ऑफ 76.06 और ओबीसी की कट ऑफ 99.33 रही। याचिकाकर्ता ने सामान्य वर्ग की कट ऑफ से अधिक अंक हासिल किए। इसके बावजूद आयोग ने मुख्य परीक्षा के लिए पात्र नहीं माना।

...फिर लेंगे नीतिगत निर्णय
राजस्थान हाइकोर्ट ने आयोग को नोटिस जारी करने के अलावा एक दिसम्बर को आदेश दिया। इसमें आयोग को ओबीसी के अभ्यर्थियों को राहत देते हुए उन्हें भी मुख्य परीक्षा में शामिल करने के निर्देश दिए है।

हो रही दिक्कत
वर्गवार 15 गुना अभ्यर्थियों को उत्तीर्ण करने के मामले में आयोग को पिछली परीक्षाओं में भी दिक्कतें हुई थी। वर्ष 2013, 2015 और 2016 की परीक्षाओं में तो यह मुसीबत साबित हुआ। RAS-2016 के पदस्थापन रुके हुए हैं। प्रारंभिक परीक्षा स्तर पर १५ गुणा से अधिक सफल अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा से बाहर रखने पर हाइकोर्ट में याचिका लगाई गई थी।

न्यायालय के आदेश की प्रति अभी मिली नहीं है। इस मामले में पहले विधिक राय ली जाएगी। फुल कमीशन के फैसले के बाद ही नीतिगत निर्णय लिया जाएगा।
- पी.सी.बेरवाल, सचिव RPSC

Updated On:
03 Dec 2018, 01:02:44 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।