भारतीय नौसेना में पायलट व ऑब्जर्वर के पदाें पर भर्ती, करें आवेदन

By: Yuvraj Singh Jadon

Published On:
Sep, 12 2018 06:54 PM IST

  • भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) ने पायलट अाैर अन्य के 22 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं

Indian Navy Recruitment , भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) ने पायलट अाैर अन्य के 22 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इच्छुक व याेग्य उम्मीदवार इन पदाें के लिए 14 सितम्बर 2018 तक अाॅनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन आैर अन्य जानकारी के लिए नीचे दिए गए अधिसूचना विवरण लिंक पर क्लिक करें।

भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) में रिक्त पदाें का विवरणः

कुल पद - 22
एटीसी - 08 पद
ऑब्जर्वर - 06 पद
पायलट - 08 पद


Nausena Bharti 2018, योग्यता मानदंड, शैक्षिक / तकनीकी योग्यता और अनुभव:
- उम्मीदवार के पास AICTE द्वारा अनुमोदित विश्वविद्यालय/संस्थान से 60 प्रतिशत अकों से साथ किसी विषय में इंजीनियरिंग पास की डिग्री हाेनी चाहिए।
- इंजीनियरिंग के अंतिम वर्ष में अध्ययनरत आवेदक भी आवेदन कर सकते हैं।


भारतीय नाैसेना में पायलट , ऑब्जर्वर के पदाें पर चयन प्रक्रिया:

उम्मीदवारों आवेदकों का चयन इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा।

Indian Navy Bharti 2018, आवेदन कैसे करें:

इच्छुक व योग्य उम्मीदवार इन पदाें के लिए नौसेना की वेबसाइट https://www.joinindiannavy.gov.in/en/account/login के माध्यम से आॅनलाइन आवेदन कर सकते हैं।


भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) में पायलट अाैर अन्य पदाें पर आवेदन के लिए महत्वपूर्ण तिथि:

अाॅनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि: 14 सितम्बर 2018

 

Indian Navy Recruitment , भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) में पायलट अाैर अन्य के 22 रिक्त पदों पर भर्ती के लिए विस्तृत अधिसूचना यहां क्लिक करें।

भारतीय नौसेना ( Indian Navy ) का परिचयः

भारतीय नौसेना ( Indian Navy) भारतीय सेना का सामुद्रिक अंग है जो कि 5600 वर्षों के अपने गौरवशाली इतिहास के साथ न केवल भारतीय सामुद्रिक सीमाओं अपितु भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति की भी रक्षक है। 55000 नौसेनिकों से लैस यह विश्व की पाँचवी सबसे बड़ी नौसेना भारतीय सीमा की सुरक्षा को प्रमुखता से निभाते हुए विश्व के अन्य प्रमुख मित्र राष्ट्रों के साथ सैन्य अभ्यास में भी सम्मिलित होती है। पिछले कुछ वर्षों से लागातार आधुनिकीकरण के अपने प्रयास से यह विश्व की एक प्रमुख शक्ति बनने की भारत की महत्त्वाकांक्षा को सफल बनाने की दिशा में है।

Published On:
Sep, 12 2018 06:54 PM IST