शिक्षा के मंदिर में विराजमान हुई मां सरस्वती

By: Jagdish Paraliya

Updated On:
11 Jul 2019, 04:25:28 PM IST

 
  • विद्यालय परिसर में नवनिर्मित मंदिर में मां सरस्वती की प्राण प्रतिष्ठा

गाजे-बाजे के साथ सिर में कलश लिए शोभायात्रा निकाली

सोजपुर. राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय ईरली में गुरुवार को कलश यात्रा निकाल कर विद्यालय परिसर में नवनिर्मित मंदिर में मां सरस्वती की प्राण प्रतिष्ठा की। इससे पहले कलश यात्रा के दौरान महिलाएं सिर पर कलश लिए हुए गाजे बाजे के साथ भजनों पर नाचते गाते व पुरुष हाथों में पताकाएं लिए हुए चल रहे थे। कलश यात्रा गांव के मुख्य मार्गों से होती हुई विद्यालय परिसर पहुंची।

भजन संध्या का आयोजन हुआ
राउमावि ईरली प्रधानाचार्य नारायणलाल मीणा ने बताया कि विद्यालय स्टाफ व ग्रामवासियों के सहयोग से मां सरस्वती की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के साथ स्थापना की गई । ईरली निवासी सुनील गौतम ने बताया इससे पहले रात्रि में भजन संध्या का आयोजन किया गया। भजन संध्या में अलग अलग क्षेत्रों से आए कलाकारों ने भजन प्रस्तुत किए।

प्रसादी लेने उमड़े ग्रामीण
कलश यात्रा के दौरान विद्यालय स्टाफ सहित आस पास के गांवो के ग्रामीणों ने भाग लिया । मुख्य यजमान शिवनगर ढाणी सरपंच रविकांत मीणा रहे । माँ सरस्वती की प्राण प्रतिष्ठा के बाद प्रसादी वितरीत की। जिसमें ईरली चण्डालिया महुआखेड़ा हथोला सारोला सहित गांवों से ग्रामीण प्रसादी पाने पहुँचे। इस अवसर पर सारोलाकलां प्रधानाचार्य रमेशचंद्र भील विधुत विभाग कनिष्ठ अभियंता मेघराज मीणा रामनिवास मीणा भीमराज गुर्जर ए सरपंच रविकांत मीणा सहित आसपास गांवों के ग्रामीणो ने भाग लिया।

Updated On:
11 Jul 2019, 04:25:28 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।