भादो में भी झमाझम,चौमहला में रेलवे ट्रेक डूबा, रोकनी पड़ी ट्रेनें

By: Hari Singh Gujar

Updated On: 10 Sep 2019, 12:13:06 PM IST

 
  •  

    - कई स्थानों पर बिजली गिरने से जले उपकरण


    - चौमहला में थमे ट्रेनों के पहिए

झालावाड़.विदाई की दहलीज पर खड़े मानसून ने एक बार फिर जिले को तरबतर कर दिया है। सावन के बाद भादवां में मेहरबान मेघ झूमकर बरस रहे है। शहर में रविवार को हल्की बारिश के साथ आसमान को बादलों ने आगोश में समेटा रखा। रात करीब चार बजे घनघोर घटाओं के साथ तेज बरसात का दौर शुरू हुआ। करीब एक घंटे तक अच्छी बरसात से सड़कों पर पानी भर गया। नाले उफान पर आ गए। उमस की मार झेल रहे लोगों को इससे राहत मिली। लेकिन तेज बारिश के साथ जोरदार मेघ गर्जना से अलसुबह लोग जाग उठे। मेघ गर्जना के साथ शहर में दो स्थानों पर बिजली गिरने से 2 ट्रांसफार्मर जल गए तो लोगों के घरों में बड़ी संख्या में इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जल गए। हालांकि कोई जनहानि नहीं हुई।
उधर,ग्रामीण क्षेत्रों में भी मूसलाधार बरसात हुई है। चौमहला के कोल्वी रोड स्थित ट्रेक पर पानी भरने से दिल्ली-मुम्बई रेलवे मार्ग बंद हो गए। ट्रेक पर पानी आने रेलवे फाटक के बाहर बाढ़ जैसे हालात हो गए। ट्रेनों को स्टेशन पर ही रोकना पड़ा। तो कहीं घरों में पानी घुस गया। सड़कों व ट्रेक पर करीब 3 फीट पानी था।
दहीखेड़ा में उजाड़ नदी की पुलिय पर तीन फीट पानी होने से सुबह से ही दरा-अरनिया स्टेट हाइवे बंद रहा। काम पर जाने वाले लोग परेशान रहे। जिले में हुई अच्छी बारिश के बाद बांधों में खासी आवक हुए। नदी, नाले उफान पर आ गए। जिले में भीमसागर बांध, कालीसिंध बांध, चंवली बांध, छापी बांध सहित अन्य बांधों में पानी की जोरदार आवक हुई। वहीं मनोहरथाना में परवन नदी उफान पर होने से पुलिय डूब गई तो महादेव मंदिर भी पूरा डूब गया। यहां डोल ग्यारस पर लगने वाले मेले का स्थान बदला गया है। जिले में आहू, कालीसिंध सहित कई नदियां उफान पर है।
दो ट्रांसफार्मर जले-
झालावाड़ शहर में बिजली गिरने से दो स्थानों पर टांसफार्मर जल गए। शहर में संजय कॉलोनी व हबीब नगर में बिजली गिरने से ट्रांसफार्मर जल गए है।लोगों के घरों के टीवी, फ्रीज सहित कई इलेक्टॉनिक उपकरण जल गए। वहीं कोटा रोड, संजय कॉलोनी, गांव घेर सहित कई क्षेत्रों की विद्युत आपूर्ति बाधित रही।

जिले में किसानों की चिंता बढ़ी-
जिले में लगातार हो रही बारिश से किसानों की चिंता बढ़ गई है। अभी कई किसानों की फसलों में पहले से पानी भरा हुआ है, ऐसे में फिर से रविवार को बारिश होने से किसानों फसल खराबे को लेकर परेशान नजर आ रहे हैं। हालांकि कृषि विभाग व राजस्व विभाग की टीमें सर्वे करने में लगी हुई है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि पहले का सर्वे चल रहा है, रविवार रात को तेज बारिश हुई है, इससे भी फसलों को नुकसान होगा इसका भी सर्वे करवाया जाएगा।

बारिश से ये मार्ग रहे बंद-
-चौमहला में दिल्ली-मुम्बई मार्ग बंद रहा, जोधपुर देहरादून सहित करीब आधा दर्जन से अधिक ट्रेन बाधित रहने से तीन घंटे रेल यातायात बाधित रहा।
- उजाड़ नदी की पुलिया पर पानी होने से दरा-अरनिया स्टेट हाइवे बंद रहा
- मनोहरथाना में परवन नदी की पुलिस पर पानी से मेले का स्थान बदला गया।

- भीमसागर बांध के गेट खुलने से सेलीगढ़ी-सारोला मार्ग बंद हो गया, इससे लोगों को भीमसागर होकर जाना पड़ा।

जिले में औसत से अधिक हो चुकी है बारिश
तहसील बारिश
झालावाड़ 793
झालरापाटन 950
असनावर 1216
बकानी 1143
पिड़ावा 1120
पचपहाड़ 1259
गंगधार 1311
डग 2159
अकलेरा 1141
मनोहरथाना 1097
खानपुर 1467
सुनेल 1059
कुल 1226.25
(औसत बारिश एमएम में )


गत वर्ष से 326 एमएम अधिक हो चुकी है बारिश-
जिले में गत वर्ष 9 सितम्बर को 899.72 एमएम बारिश हुई थी, जबकि इस वर्ष औसत बारिश 1226.25 एमएम हो चुकी है। इस बार गतवर्ष से 326.53 एमएम अधिक बारिश हो चुकी है। अभी बारिश का दौर जारी है। ऐसे में जानकारों का कहना है कि इस औसत बारिश 14 सौ से अधिक होने का अनुमान है।

24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश पचपहाड़ में-
जिले में गत 24 घंटे में सबसे ज्यादा बारिश पचपहाड़ में 82 एमएम दर्ज की गई है। ऐसे में जिले में कई स्थानों पर खेतों में एक बार फिर से पानी भर गया है।

कस्बा 24 घंटे में सुबह 8 से 5
झालावाड़ 18 4
झालरापाटन 17 9
असनावर 10 22
बकानी 34 45
पिड़ावा 34 14
पचपहाड़ 82 35
गंगधार 62 63
डग 55 43
अकलेरा 50 4
मनोहरथाना 28 4
खानपुर 38 10
सुनेल 3 00
सर्वे चल रहा है-
जिले में हो रही बारिश से नुकसान तो है, अभी सर्वे चल रहा है, रात को हुई बारिश का भी अलग से सर्वे करवाया जाएगा।
केसी मीणा, उपनिदेशक, कृषि विस्तार,झालावाड़।

Updated On:
10 Sep 2019, 12:13:05 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।