समझाने पर नहीं माने तो सामान कर लिए जब्त

By: Jagdish Paraliya

Updated On:
11 Jul 2019, 11:09:09 AM IST

 
  • झालरापाटन में सड़कों तक फैले अतिक्रमण हटाए
    पुलिस और नगरपालिका प्रशासन ने की कार्रवाई

टेम्पों में भर कर ले गए दुकानदारों के सामान

झालरापाटन. पुलिस और नगरपालिका प्रशासन ने बुधवार को यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाने के लिए अतिक्रमण निरोधी कार्रवाई करते हुए दुकानदारों के सड़क पर रखे सामान जब्त किए। शहर थाना प्रभारी जगदीश प्रसाद, नगरपालिका अधिशाषी अधिकारी महावीर सिंह सिसोदिया, यातायात प्रभारी राजेन्द्र सिंह, कार्यवाहक स्वास्थ्य निरीक्षक दिलीप कलोसिया के साथ दो दर्जन से भी अधिक पुलिस कर्मी और इतनी ही संख्या में सफाई कर्मचारियों का दल बुधवार सुबह १० बजे नगरपालिका कार्यालय पहुंचा।

आए दिन के जाम से सभी परेशान
दल सदस्यों ने पीपली बाजार, चौपडिय़ा बाजार, सूर्य मंदिर व आसपास के क्षेत्र में सड़क पर सामान रखने वाले दुकानदारों को खरी-खोटी सुनाते हुए कहा कि पूर्व में तीन बार समझाइश करने के बावजूद उनके द्वारा सड़क पर सामान रखना बंद नहीं किया है। इससे बिगड़ती यातायात व्यवस्था को लेकर सभी को परेशान होना पड़ रहा है। दस्ते ने इस दौरान कई दुकानदारों के सड़क पर रखे सामान को जब्त कर वाहन में भर लिया। कई जगह इस कार्रवाई को लेकर दस्ता दल व दुकानदारों के बीच नोकझोंक भी हुई। इसके बावजूद प्रशासन का रूख सख्त रहा।

कार्रवाई जारी रहेगी
शहर थाना प्रभारी ने दुकानदारों को बताया कि यह कार्रवाई लगातार जारी रहेगी और अब सड़क पर सामान रखने वाले दुकानदारों का सीधा चालान बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह कस्बा आप सभी का है और सभी को मिलकर यहां कि यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाना है, इसमें सभी मिलकर सहयोग करंे। दल सदस्यों को देखकर कई दुकानदार स्वेच्छा से सामान समेटने लगे तो कहीं दुकानदार इस अफरा-तफरी से भयभीत होकर सामान उठाने लगे, इससे पर उनका सामान सड़क पर ही बिखर गया।

समानता का व्यवहार करें
भाजपा पार्षद यशोवर्धन बाकलीवाल, बबीता सेठी, राधेश्याम चौरासिया ने कहा कि प्रशासन हमेशा पीपली बाजार से लेकर सूर्य मंदिर तक इस अभियान को चलाकर इति श्री कर लेता है, जबकि बस स्टैण्ड परिसर, बस स्टैण्ड से गिन्दौर दरवाजा तक सड़क के दोनों और अतिक्रमण कर दुकानदारों ने सामान जमा रखे हंै। इससे दिन में कई बार यहां जाम लगता है, इसी मार्ग पर आधा दर्जन बैंक की शाखाएं हैं, जिनके बाहर दुपहिया वाहन आड़े-तिरछे खड़े रहते हंै, इससे आमजन को काफी परेशानी होती है। प्रशासन इस कार्रवाई में समानता का व्यवहार रखते हुए दुकानदारों के साथ भेदभाव न करें।

Updated On:
11 Jul 2019, 11:09:09 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।