जिले के आठ थाना प्रभारियों को किया गया इधर से उधर, जानें किसको मिला कहां का प्रभार

By: Vasudev Yadav

Updated On: 18 Aug 2019, 05:41:06 PM IST

  • एसपी पारुल माथुर ने जिले में लगातार हो रही चोरी, लूट की घटनाओं को देखते हुए पुलिसिंग में कसावट लाने जिले के आठ थाना प्रभारियों को बदल दिया है। वहीं दो सब इंस्पेक्टरों को लाइन अटैच किया गया है।

जांजगीर-चांपा. हालांकि दीगर जिले से जांजगीर-चांपा जिले में स्थानांतरित हुए तीन निरीक्षकों को नई जगह दी गई है। इसके कारण थाना प्रभारियों का स्थानांतरण करना पड़ा है।

एसपी आफिस से मिली जानकारी के अनुसार चंद्रपुर के निरीक्षक तेज कुमार यादव को अकलतरा थाना प्रभारी (Station Incharge) बनाया है। अकलतरा थाना प्रभारी परिवेश तिवारी का स्थानांतरण बिलासपुर होने के कारण उन्हें रिलीव कर दिया गया। चंद्रपुर में तेज कुमार यादव की जगह राकेश कुमार भोई को चंद्रपुर का प्रभार दिया गया। राकेश कुमार दीगर जिले से जांजगीर-चांपा जिला हाल ही में आए हैं। इसी तरह डभरा के थाना प्रभारी विवेक पांडेय को नवागढ़ का थाना प्रभारी बनाया गया है।

Read More : Breaking : देर रात पिस्टल की नोंक पर लाखों की लूट, सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

नवागढ़ के थाना प्रभारी देवेश कुमार ठाकुर को अड़भार चौकी प्रभारी बनाया गया है। वहीं डभरा के विवेक पांडेय की जगह जितेंद्र बंजारे को भेजा गया है। जितेंद्र बंजारे भी दीगर जिले से हाल ही में जांजगीर आए हैं। वहीं निरीक्षक रामगोपाल देवांगन पुलिस लाइन से अजाक थाना प्रभारी बनाया गया है।

रामगोपाल देवांगन पहले भी जिले में काफी दिनों तक रह चुके हैं। वे नवागढ़ थाना प्रभारी थे। उनकी तबीयत बिगडऩे की वजह से काफी दिनों तक पुलिस लाइन में थे। इसके अलावा मालखरौदा का थाना प्रभारी तारीक हरीश की जगह निरीक्षक उमेश साहू को जिम्मेदारी दी गई है। उमेश साहू भी हाल में जांजगीर जिले में आमद दिए हैं। वहीं मारीक हरीश को पंतोरा चौकी प्रभारी की जिम्मेदारी दी गई है।

Read More : घर घुसकर महिला के गले से चेन की लूट, युवक ने ऐसे दिया घटना को अंजाम...

दो चौकी प्रभारी लाइन अटैच
जिले के दो चौकी प्रभारियों को लाइन अटैच किया गया है। दरअसल दोनों चौकी प्रभारियों का काम काज विवादों में रहा। यही वजह है कि उन्हें लाइन अटैच किया गया है। पंतोरा चौकी प्रभारी बेल्दोसाय पैकरा को बोकरामुड़ा, नवापारा क्षेत्र में अवैध शराब बिक्री रोक नहीं पाने का नतीजा भुगतना पड़ा। क्षेत्र की महिला समूह की महिलाओं ने उनके खिलाफ अभियान छेड़ दिया था। इसी तरह अड़भार चौकी प्रभारी बंशीधर सिदार को भी कुछ इसी तरह की शिकायतों की वजह से हटाया गया।

Updated On:
18 Aug 2019, 05:39:21 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।