अनंतनाग आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ के पांच जवानों को दी गई श्रद्धां​जलि

By: Prateek Saini

Published On:
Jun, 13 2019 08:18 PM IST

  • यह आतंकी हमला व्यस्ततम खन्नाबल-पहलगाम रोड पर अनंतनाग बस स्टेशन से एक किलोमीटर दूर महिला कालेज के पास हुआ...

(जम्मू,योगेश कुमार): दक्षिण—कश्मीर के अनंतनाग जिले में बुधवार को आतंकी हमले में शहीद हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के पांच जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। राज्यपाल के सलाहकार विजय कुमार ने आज शहीद जवानों को श्रीनगर में श्रद्धांजलि दी।


आतंकियों ने सीआरपीएफ की पेट्रोलिंग पार्टी पर बुधवार को पहले अंधाधुंध गोलियां बरसाईं फिर ग्रेनेड हमला किया था। हमले में अनंतनाग के एसएचओ भी गंभीर रूप से घायल हुए थे। मौके पर मौजूद एक महिला को भी चोट पहुंची थी। जवाबी कार्रवाई में एक पाकिस्तानी हमलावर मारा गया था। घटना की जिम्मेदारी आतंकी संगठन अल उमर मुजाहिदीन ने ली है।


हमले में घायल जवानों को तत्काल अस्पताल ले जाया गया जहां पांच ने दम तोड़ दिया। हमले में सहायक उप निरीक्षक (एएसआई) रमेश कुमार ( झज्जर, हरियाणा), निरोद शर्मा (नलबारी, असम), कांस्टेबल सत्येंद्र कुमार (शामली, उत्तर प्रदेश), महेश कुमार कुशवाहा (गाजीपुर, उत्तर प्रदेश) व संदीप यादव (देवास, मध्य प्रदेश) शहीद हो गए। घायलों में सीआरपीएफ के हेड कांस्टेबल राजेंदर, कांस्टेबल प्रेमचंद्र कौशिक, कांस्टेबल केदार नाथ ओझा शामिल हैं।

 

यह आतंकी हमला व्यस्ततम खन्नाबल-पहलगाम रोड पर अनंतनाग बस स्टेशन से एक किलोमीटर दूर महिला कालेज के पास हुआ। बताते हैं कि मोटरसाइकिल सवार दो आतंकियों ने वहां पेट्रोलिंग पार्टी को निशाना बनाकर अंधाधुंध फायरिंग की। इससे मौके पर ही एक जवान की मौत हो गई जबकि कुछ अन्य घायल हो गए। सीआरपीएफ 116 बटालियन तथा पुलिस की संयुक्त पिकेट भी वहां तैनात रहती है। गोलियों की आवाज सुनकर एसएचओ तथा डिवीजनल अफसर रक्षक वाहन से वहां पहुंचे तो आतंकियों ने दोनों गाड़ियों को निशाना बनाकर ग्रेनेड दागे। एसएचओ की गाड़ी से टकराकर ग्रेनेड फट गया, जिसमें एसएचओ अरशद खान घायल हो गए। डिवीजनल अफसर की गाड़ी को निशाना बनाकर दागा गया ग्रेनेड नहीं फटा। घटना के बाद एक आतंकी मौके से भाग निकला।

 

एक जुलाई से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा के पहले अनंतनाग में हुए हमले को लेकर सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। इसी रास्ते से होकर अमरनाथ यात्री पहलगाम जाते हैं। इस वजह से सुरक्षा एजेंसियों की चिंता अधिक है। घटना के बाद पूरे इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नाके लगाकर जगह-जगह चेकिंग की जा रही है। सूत्रों का कहना है कि खुफिया एजेंसियों की ओर से बस स्टैंड के आस-पास सुरक्षा बलों पर हमले का इनपुट पहले ही दिया गया था।

Published On:
Jun, 13 2019 08:18 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।