उत्तर कश्मीर:तंगधार में एलओसी के पास तीन आतंकवादी गिरफ्तार

Prateek Saini

Publish: Sep, 10 2018 02:41:05 PM (IST)

पुलिस के अनुसार तीनों ने हथियार प्रशिक्षण के लिए पिछले साल एलओसी पार की थी...

(श्रीनगर): जम्मू-कश्मीर में लगातार बढ रही आतंकी घटनाओं पर अकुंश लगाने की जद्दोजहद में लगी सेना ने बडी सफलता हासिल की है। सेना ने कुपवाडा जिले से बांदीपोरा के तीन आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की ओर से की गई पूछताछ में खुलासा हुआ कि किस आतंकी संगठन के लिए यह लोग काम कर रहे थे।

 

यह आतंकी पकडे गएं

उत्तर कश्मीर के सीमावर्ती कुपवाड़ा जिले के तंगधार इलाके में सेना ने रविवार को बांदीपोरा के तीन आतंकवादियों को नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास गिरफ्तार कर लिया। सेना की 17 बिहार रेजिमेंट के सैनिकों ने एलओसी के पास तीन युवाओं को देखा और पूछताछ के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया। पुलिस के अनुसार तीनों ने हथियार प्रशिक्षण के लिए पिछले साल एलओसी पार की थी। पूछताछ के दौरान सामने आया है कि युवा तहरीक उल मुजाहिदीन और हिजबुल मुजाहिदीन संगठनों के थे। उनकी पहचान वकील अहमद डार पुत्र मोहम्मद रमजान डार, निवासी बैंकोट, बांदीपोरा, सज़ाद अहमद खवाजा पुत्र हबीबुल्ला खवाजा निवासी बांदीपोरा और मोहम्मद शफ़ी भट पुत्र मोहम्मद अब्दुल्लाह भट निवासी बांदीपोरा के रूप मे हुई है।

 

पत्थरबाजी की घटनाओं पर लगाम लगाने को पुलिस की युक्ति

जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधियों और पत्थरबाजी की बढती घटनाओं ने सुरक्षाबलों और स्थानीय पुलिस की चिंता बढा दी है। आतंकी घटनाओं को रोकने के लिए जहां सेना व अन्य सुरक्षाबल मिलकर कार्रवाई कर रहे है वहीं पत्थरबाजी की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक नई युक्ति खोज निकाली है। पुलिस के जवान पत्थरबाजों के गुट में शामिल होकर उनकी ट्रेकिंग कर रहे है और जैसे ही प्रदर्शनकारियों की कोई भी हरकत दिखाई देती है पुलिस के जवान उन्हें रंगे हाथों पकड लेते है। पुलिस ने ऐसे कई प्रदर्शनकारियों को गिरफ्त में लिया है। पुलिस के इस उपाय को एक कारगर उपाय बताया जा रहा है और चहुंओर इसकी तारीफ हो रही है।


यह भी पढे: कश्मीर: नए डीजीपी के चार्ज लेते ही एक्शन में आई पुलिस, भीड़ में शामिल हो पकड़े पत्थरबाज

More Videos

Web Title "Three terrorists arrested near LOC in Tangadar"