महोत्सव में उमड़ा जन सैलाब, लगाई धोक, मन्नत मांगी

By: Jitesh kumar Rawal

Published On:
Jun, 12 2019 04:17 PM IST

  • www.patrika.com/rajasthan.news

बावतरा गांव में वांकल माता मंदिर में किया ध्वजारोहण, रात को भजन-जागरण


जालोर. जिलेभर में इन दिनों धार्मिक आयोजनों से वातावरण धर्ममय बना हुआ है। कहीं वार्षिकोत्सव मनाए जा रहे हैं, जो कहीं आगामी दिनों में आयोजन होंगे। श्रद्धालु महोत्सव की तैयारी में जुटे हुए हैं। उधर, मंगलवार को आयोजित वार्षिकोत्सव में श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा। देवालयों में धोक लगाकर मन्नत मांगी गई।


वांकल माता मंदिर का वार्षिकोत्सव मनाया
सायला. निकटवर्ती बावतरा गांव स्थित बुजड राजपुरोहित गोत्र की कुलदेवी वांकल माता का वार्षिकोत्सव मंगलवार को कबीर आश्रम मंहत निर्मल दास महाराज, वालेरा मंहत पारस भारती महाराज, हरिस्वरूप महाराज बावतरा के सान्निध्य में धूमधाम से मनाया गया। मंदिर कमेटी के अनुसार वार्षिकोत्सव की पूर्व संध्या पर सोमवार रात्रि को विशाल भजन संध्या का आयोजन किया गया। इसमें भजन कलाकार भरत कुमार एंड पार्टी आहोर ने प्रस्तुति दी।मंगलवार सवेरे धार्मिक अनुष्ठान शुरू हुए। लाभार्थी परिवार की ओर से शुभ मुहूर्त में ध्वजारोहण किया गया। माता के जयकारों से वातावरण गुंजायमान हो गया। महाप्रसादी में समाजबंधुओं ने उत्साह के साथ भाग लिया।


वार्षिक मेले की तैयारियां जोरों पर
रोडला (आहोर). उज्जैनी वीर मामाजी धाम चौपानाड़ी में १४ व १५ जून को वार्षिक मेला धूमधाम से मनाया जाएगा। इसकी तैयारियां जोरों पर चल रही है। संतों के सान्निध्य में कार्यक्रम होंगे। श्रद्धालु विभिन्न व्यवस्थाओं में जुटे हुए हंै। आकर्षक सजावट की जा रही है।


शनिदेव मंदिर का वार्षिकोत्सव मनाया
भाद्राजून. नवग्रह शनिदेव भगवान मंदिर का द्वितीय वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया। सोमवार रातभजन कलाकार सुरेश बाला व नृत्य कलाकार विनोद सोनी तथा कैलाश जैसलमेर ने प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का आगाज गणपति वंदना से किया गया। शनिदेव महिमा, ठुमक ठुमक कर चाल भवानी, बाला गांव में सोवणो रे शनिश्वर रो धाम, रूपादे जीमणे पधारो...समेत विभिन्न भजनों की प्रस्तुति दी। श्रद्धालु भोर तक जमे रहे।

महाआरती के बाद लगाया भोग
मंदिर पुजारी केवलचंद जोशी बताया कि मंगलवार सुबह हवन व ध्वजारोहण किया गया। महाआरती के बाद शनिदेव एवं नवग्रहों को प्रसाद का भोग लगाया गया। इस दौरान नेनदास, मसरसिंह, किशनदास दुन्दाड़ा, पन्नाराम वागडा, प्रेमसिंह भायल, राणाराम चौधरी, सांवलराम गैया, रणछोड़दास वैष्णव, विक्रम जोशी, बंशीलाल दमामी समेत कई लोग मौजूद थे। कार्यक्रम को लेकर श्रद्धालुओ में उत्साह बना रहा।

Published On:
Jun, 12 2019 04:17 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।