पहली बार जालोर स्टेशन पहुंचे डीआरएम और फिर....

By: khushal bhati

|

Updated: 18 Nov 2017, 10:58 AM IST

Jalore, Rajasthan, India


जालोर. मंडल रेल प्रबंधक गौतम अरोड़ा जोधपुर में पदभार ग्रहण करने के बाद पहली बार जालोर पहुंचे। सवेरे करीब 12 बजे डीआरएम अरोड़ा भगत की कोठी-अहमदाबाद टे्रन से जालोर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने स्टेशन स्टाफ से व्यवस्थाओं और आवश्यकताओं के बारे में जानकारी ली। रेल संगठनों के पदाधिकारियों ने इस दौरान रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाओं के विस्तार, लंबी दूरी की टे्रनों के फेरे और एक अतिरिक्त साधारण सवारी गाड़ी संचालन की बात कही। जिस पर डीआरएम ने आश्वासन दिया कि जनहित में जो भी उपयुक्त होगा उसके लिए सकारात्मक प्रयास किए जाएंगे। इस दौरान उन्होंने स्टेशन परिसर और गुड्स ट्रेक की व्यवस्थाओं के बारे में भी जानकारी जुटाई। इसी क्रम में उन्होंने मीटर गेज के समय संचालित सी-45 पर लोगों के गुजरने के बारे में स्थानीय स्टाफ से जानकारी ली। साथ ही उन्हें वैकल्पिक व्यवस्था के लिए निर्देशित किया।
टे्रनों की जानकारी ली
स्टेशन पर पहुंचने पर युवा यात्री गाड़ी संघर्ष समिति के अध्यक्ष हीराचंद भंडारी ने समदड़ी-भीलड़ी रेल खंड में वाया जालोर चल रही टे्रनों की स्थिति से डीआरएम को अवगत करवाया। साथ ही जरुरत के अनुसार लोकल टे्रन की भी जांग की। इस दौरान डीआरएम ने स्टेशन मास्टर से स्टेशन की व्यवस्थाओं और यहां से गुजरने वाली सभी टे्रनों के बारे में जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान लोगों ने डीआरएम से रात के समय रोशनी की कम व्यवस्था होने की शिकायत की, जिस पर डीआरएम ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।
ये रखे सुझाव
- पूरे प्लेटफार्म पर टीन शेड लगाया जाए, ताकि यात्रियों को बारिश और गर्मी के मौसम में दिक्कत नहीं हो
- लंबी दूरी की टे्रनों में कोच की लोकेशन दिखाने के लिए डिस्प्ले बोर्ड लगाया जाए।
- जोधपुर-पालनपुर के बीच एक अतिरिक्त लोकल टे्रन संचालित की जाए।
- लंबी दूरी की टे्रनों के फेरे बढ़ाएं जाएं, ताकि प्रवासियों को फायदा मिल सके।
- जालोर-आहोर के बीच सी-48 पर प्रतीक्षित रेलवे क्रॉसिंग पर आरओबी का निर्माण हो।
मोदरा. मंडल रेल प्रबंधक शुक्रवार को मोदरा पहुंचे और इस दौरान स्टेशन का निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान मोदरा व आसपास के गांवों के ग्रामीणों ने मोदरा आशापुरा माता मंदिर के पास स्थित रेलवे क्रॉसिंग सी 74 व रामसीन-भीनमाल मार्ग स्थित रेलवे क्रॉसिंग सी-76 पर अंडरब्रिज निर्माण कार्य को रुकवाने की मांग की। इस दौरान ग्रामीणों ने डीआरएम को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों का कहना था कि अंडर ब्रिज निर्माण से बारिश के दिनों में इनमें पानी का भराव हो जाएगा, जिससे यहां से वाहन चालकों के लिए गुजरना काफी मुश्किल भरा होगा। डीआरएम ने ग्रामीणों की बात को सुनते हुए उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस मौके ग्रामीणों ने रेलवे स्टेशन पर टीन शेड लगाने और प्लेटफार्म की कम चौड़ाई से हो रही समस्या से डीआरएम को अवगत करवाया। स्टेशन पर पीआरएस लगा होने के बाद भी बुकिंग क्लर्क नहीं होने पर ग्रामीणों ने हो रही समस्या से डीआरएम को अवगत करवाया। इस मौके इस अवसर भवरसिंह सोढ़ा, जबरसिंह चम्पावत, राणसिंह राठौड़, अमरसिंह राठौड़, रावतसिंह परमार, हरीसिंह राठौड़, रमेश कुमार डांगी, जगमालसिंह राजपुरोहित, दीपाराम देवासी, प्रकाश पुरोहित व भागीरथ विश्नोई समेत काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।...४

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।