मवेशियों से तेज नहीं दौड़ सका चरवाहा, उठा ले गया बाघ

By: vinay sharma

Updated On:
31 Jul 2019, 02:25:21 PM IST

  • वन्यजीवों के लिए जंगलों में बेहतर प्रबंधन नहीं होने से जंगली जानवरों का रिहाईशी इलाकों में आने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में आज करौली के करौली के वार्ड नंबर 36 में एक युवक रूप सिंह माली पशुओं को छोड़ने जंगल में जा रहा था इसी दौरान बाघ उसे उठा ले गया। इसका पता चलने पर लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया और मामले की सूचना वन व प्रशासन के अधिकारियों को दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची वन विभाग के दल ने युवक के खून से सने कपड़े बरामद किए। बाद में युवक के शव की बरामदगी भी कर ली गई

29 जुलाई को पीएम मोदी ने बाघों की संख्या पर एक रिपोर्ट जारी की जिसमें बताया गया की विश्व के बाघों की कुल आबादी के तीन चौथाई बाघ भारत में निवास करते है। वहीं बाघों की संख्या में 2014 से 2018 के बीच 741 बाघों की बढ़ोत्तरी हुई है। जो की खुशी की बात है लेकिन वन विभाग द्वारा वन्यजीवों के लिए जंगलों में बेहतर प्रबंधन नहीं होने से जंगली जानवरों का रिहाईशी इलाकों में आने का सिलसिला जारी है। इसी कड़ी में आज करौली के करौली के वार्ड नंबर 36 में एक युवक रूप सिंह माली पशुओं को छोड़ने जंगल में जा रहा था इसी दौरान बाघ उसे उठा ले गया। इसका पता चलने पर लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया और मामले की सूचना वन व प्रशासन के अधिकारियों को दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची वन विभाग के दल ने युवक के खून से सने कपड़े बरामद किए। बाद में युवक के शव की बरामदगी भी कर ली गई

Updated On:
31 Jul 2019, 02:25:21 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।