1101 पुरस्कार... कतार में पांच हजार, 1500 शिक्षक पीछे हटे

By: chandra shekar pareek

Updated On:
25 Aug 2019, 06:00:00 AM IST

  • गुरुजनों का सम्मान (award) खुद गुरुजनों के लिए ही सिरदर्द बन गया। शिक्षक सम्मान के लिए इस बार 5 हजार से ज्यादा आवेदन किए गए, लेकिन दूसरे चरण में भीड़ देखकर 1500 ने खुद को दौड़ से अलग कर लिया।

गुरुजनों का सम्मान खुद गुरुजनों के लिए ही सिरदर्द बन गया। शिक्षक सम्मान के लिए इस बार 5 हजार से ज्यादा आवेदन किए गए, लेकिन दूसरे चरण में भीड़ देखकर 1500 ने खुद को दौड़ से अलग कर लिया।
शिक्षा विभाग की ओर से मांगे गए शिक्षक सम्मान आवेदनों में प्रदेशभर के 5002 शिक्षकों ने ऑनलाइन आवेदन किए, लेकिन अब लगभग 3500 शिक्षकों में से टॉप 1101 शिक्षकों को दो चरणों में सम्मान मिलना है। 1500 से अधिक शिक्षकों ने सम्मान के लिए कड़ी टक्कर को देखकर हार्डकॉपी में आवेदन ही नहीं जमा कराया है।

ऑनलाइन के बाद भेजनी थी हार्ड कॉपी
शिक्षा विभाग ने राज्यस्तरीय शिक्षक सम्मान के लिए पहली बार ऑनलाइन आवेदन लिए है। नए नियमों के तहत ऑनलाइन आवेदन के बाद शिक्षकों को ऑनलाइन आवेदन की तीन प्रति हार्डकॉपी में ब्लॉक कार्यालय में जमा करानी थी।

कई ब्लॉकों में तो दो में मुकाबला
प्रदेश के 80 से अधिक ब्लॉक तो एसे है, जहां आवेदनों की संख्या नाममात्र की रह गई है। इस कारण शिक्षकों को ब्लॉक स्तरीय सम्मान मिलना लगभग तय हो गया है। हालांकि जिला व राज्यस्तरीय पुरस्कार के लिए कड़ी टक्कर रहेगी।

कई शिक्षकों ने अधूरा छोड़ा फॉर्म
रोचक बात यह है कि कई शिक्षकों ने ऑनलाइन आवेदन ही अधूरा छोड़ दिया। इस कारण वह हार्डकॉपी में आवेदन जमा कराने की स्थिति में नहीं है।

Updated On:
25 Aug 2019, 06:00:00 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।