सत्संग में उमड़े श्रद्धालु, प्रवचन से दिखाया जीवन का सच्चा रास्ता

By: Deendayal Koli

Published On:
Feb, 14 2019 07:19 AM IST

 
  • बाबा जयगुरुदेव महाराज के उत्तराधिकारी उमाकांत महाराज ने दिए प्रवचन

जयपुर। सीकर जिले के खंडेला में बुधवार को बाबा जयगुरुदेव महाराज के आध्यात्मिक उत्तराधिकारी बाबा उमाकांत महाराज का प्रवचन व नामदान का आयोजन सोनगिरी बावड़ी पर किया गया। महाराज ने कहा कि मेहनत व ईमानदारी की कमाई से बरकत होती है। यह मनुष्य शरीर किराए का मकान है। मालिक की जीवात्मा इसमें बंद है। सच्चे संत फकीर का सत्संग नहीं मिलने से लोग रास्ता भूल जाते हैं। इंसान केवल शरीर के लिए ही सबकुछ करता रहता है जो अंत समय इस मृत्युलोक में ही रह जाता है। सच्चा सत्संग नहीं मिलने से लोगों का खान-पान, रहन-सहन बदल जाता है। चोरी, ठगी, बेईमानी व व्यभिचार बढ़ रहे हैं। बीमारियां साथ नहीं छोड़ रही हैं। देश में आतंकवाद, नक्सलवाद, परिवारवाद, जातिवाद बढ़ते जा रहे हैं। लोग मन मुखी होकर गुरु की बातें मानने को तैयार नहीं है। इस मनुष्य जीवन को सही तरीके जीना है तो परिवार के साथ साथ गुरु भगवान का भी ध्यान लगाना चाहिए जिससे मन को शांति मिलती है। बाबा उमाकांत महाराज ने जन समुदाय को प्रभु का रास्ता नाम दान देकर बताया तथा देशभक्त बनो, हड़ताल, तोड़फोड़, आंदोलन, हिंसा, आगजनी से दूर रहो। नियम व कानून का पालन करो। यहां तक कि जीवों व पेड़ों पर भी दया करो और उन्माद से बचो। इस कलियुग में कलियुग जाएगा व सतयुग आएगा। लोगों को शाकाहारी, सदाचारी, नशा मुक्त बनना चाहिए। इस अवसर पर भक्तों के लिए प्रशासन की व्यवस्था रही।

Published On:
Feb, 14 2019 07:19 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।