खुशखबर! बीसलपुर बांध में पानी की रिकॉर्ड आवक, अगले चौबीस घंटे में यहां होगी बारिश

By: Dinesh Saini

Updated On: Sep, 12 2018 12:44 PM IST

  • www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। भादो मास में सक्रिय हुए मानसून ने प्रदेश हाड़ौती और डांग क्षेत्र को जमकर भिगोया वहीं बीते चौबीस घंटे में शहर की लाइफ लाइन बीसलपुर बांध में इस सीजन में पानी की सर्वाधिक आवक भी रिकॉर्ड हुई है। बीते चौबीस घंटे में बांध का जलस्तर छह सेंटीमीटर बढकऱ 309.46 आरएल मीटर रिकॉर्ड हुआ है जो इस बार मानसून में सर्वोच्च स्तर रहा है।

 

अगले चौबीस घंटे में यहां होगी बारिश
मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार बीते रविवार तक प्रदेश के पूर्वोत्तर और दक्षिण पश्चिमी इलाकों में मेघ जमकर बरसे लेकिन बीते चौबीस घंटे में उत्तरी इलाकों में चल रही चक्रवाती हवा के कारण मानसूनी मेघ हिमालय तराई क्षेत्र और पूर्वांचल राज्यों की ओर खिसक गए हैं। लेकिन पाकिस्तान के उत्तरी इलाकों में सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के असर से अगले चौबीस घंटे में पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और आस पास के राज्यों में बारिश होने का अनुमान है।


गुलाबीनगर में सप्ताहभर सप्लाई लायक पानी की आवक
बीसलपुर बांध कंट्रोल रूम की सूचना के अनुसार बांध में बीते चौबीस घंटे में छह सेंटीमीटर पानी की आवक बढऩे से बांध का जलभराव 309.46 आरएल मीटर दर्ज हुआ है जो इस बार सीजन में सबसे ज्यादा रहा है। बांध में हुई छह सेंटीमीटर आवक से जयपुर शहर को सप्ताहभर जलापूर्ति जितना पानी उपलब्ध हो गया है।


नमी बढऩे से मौसम का मिजाज ठंडा
राजधानी में बीते चौबीस घंटे में बादल छाए रहे लेकिन बारिश का दौर छिटपुट बौछारों तक ही सीमित रहा। वहीं आज सुबह तेज रफ्तार से चली हवा के कारण आसमान साफ हुआ और चार दिन बाद शहर में धूप के दर्शन हुए। हवा में नमी बढऩे से मौसम का मिजाज ठंडा रहा है और घरों में कूलर, एसी का उपयोग भी कम होने लगा है। स्थानीय मौसम केंद्र के अनुसार शहर में अगले चौबीस घंटे में छितराए बादल छाए रहने व हल्की बौछारें गिरने की संभावना है।

Published On:
Sep, 12 2018 09:28 AM IST