विधानसभा में हारे प्रत्याशियों से भाजपा ने कहा- एमएलए मानकर रहें सक्रिय, लोकसभा में दिलाएं बढ़त

By: Hanuman Ram Galwa

Updated On:
24 Jan 2019, 09:17:35 PM IST

  • भाजपा को नाराजगी और निराशा से उबारने की कोशिश

राजस्थान विधानसभा चुनाव में पराजय के बाद बढ़ी नाराजगी और निराशा से भाजपा को उबारने के लिए विधानसभा चुनाव में पराजित प्रत्याशियों को गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में बुलाकर उनकी हौसला अफजाई की।
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री एवं लोकसभा चुनाव प्रदेश प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर तथा राष्ट्रीय सह-संगठन मंत्री वी.सतीश ने एक स्वर में विधानसभा चुनाव में हार चुके प्रत्याशियों से कहा- 'हम केवल दुष्प्रचार से हारें हैं। हार को लेकर आपस में उलझने के बजाय अपने आपको जीता हुआ मानकर अपने क्षेत्र में सक्रियता दिखाएं और लोकसभा चुनाव में भाजपा को अपने क्षेत्र से बढ़त दिलाकर विधानसभा चुनाव में हार का ब्याज सहित हिसाब चुकता करें। विधानसभा चुनाव में पराजित हुए भाजपा के 126 प्रत्याशियों में से 80 के करीब बैठक में पहुंचे। बैठक में पूर्व मंत्री अरुण चतुर्चेदी, प्रभुलाल सैनी, अरुण चतुर्वेदी, ओटाराम देवासी तथा कालूलाल गुर्जर भी शामिल हुए। पूर्व मंत्री यूनुस खान बैठक में नहीं आए।

Updated On:
24 Jan 2019, 09:17:35 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।