Watch : किसानों के लिए बड़ी खबर, राजस्थान सीएम अशोक गहलोत ने दी सौगात, मिलेगी राहत

By: Deepshikha

Published On:
Jul, 11 2019 07:22 PM IST

  • सहकारी बैंकों से ऋण लेने वाले किसानों के लिए बनाए किसान सेवा पोर्टल : Rajasthan CM Ashok Gehlot

     

जयपुर. सहकारी बैंकों ( co-operative banks ) से ऋण लेने वाले किसानों ( Farmers Loan Scheme ) के लिए बनाए किसान सेवा पोर्टल ( Farmer Service Portal ) की शुरूआत गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Cm Ashok Gehlot ) ने की।

गुरुवार को बिड़ला सभागार मेंं आयोजित उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि किसानों के लिए ऑन लाइन पोर्टल ( Kisan seva online portal ) शुरू होने की खुशी है, लेकिन मैं वर्तमान सहकारी तंत्र से खुश नहीं हूं। यह तंत्र केवल लोन लेने तक सीमित नहीं रहना चाहिए। किसान संगठित हो, मजबूत हो, उसके लिए गांव में फैक्ट्री हो रोजगार हो। केवल खेती से किसान को उचित कीमत नहीं मिल पा रही है। इसे बढ़ाने के लिए फूड़ प्रोसेसिंग को बढ़ावा देने की जरूरत है।

 

 

 

 

ashok gehlot

राष्ट्रीयकृत बैंक के कर्ज माफी के लिए केन्द्र की मदद जरूरी

उन्होंने कहा कि दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने पर मैंने बिना ब्याज कर्ज देने की व्यवस्था की। इसके बाद भाजपा सरकार ने इसे बंद करने का प्रयास किया, लेकिन हमारे विरोध के कारण वे ऐसा नहीं कर सके। हमने घोषणा के अनुरूप सहकारी बैंकों के कर्ज माफ किए।

राष्ट्रीयकृत बैंक के दो लाख रुपए तक के लोन माफ ( Nationalized bank debt waiver ) करने के लिए केन्द्र से वार्ता कर रहे हैं। इन बैंकों पर हमारा नियंत्रण नहीं है। हम चाहते हैं कि जिस तरह बड़े उद्योगपतियों के डूबे हुए कर्ज के लिए वन टाइन सैटलमेंट स्कीम लाई जाती है उसी तरह गरीब किसान के लिए भी स्कीम लाई जाए। उसमें राज्य सरकार भी अपनी हिस्सेदारी देगी।

 

kisaan online portal

हमसे सीख लेकर ही शुरु की भामाशाह व आयुष्मान योजना

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने मुफ्त दवा योजना शुरू की। उसी तर्ज पर यहां भामाशाह और केन्द्र में अब आयुष्मान योजना शुरू की गई है। अब हम मुफ्त दवा की संख्या बढ़ाते जा रहे हैं। कैंसर जैसे रोग की दवा मुफ्त उपलब्ध कराई जा रही है। किसानों से कहा कि लोगों की तरह अब जानवरों की दवा भी मुफ्त उपलब्ध कराई जा रही है।

 

CM Ashok Gehlot

भाजपा राज में हुआ कर्ज घोटाला

सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने कहा कि हमारी सरकार बनते ही कर्जमाफी योजना में घोटाले की शिकायतें आने लगी। कभी डूंगरपुर तो कभी किसी और जिले से। हजारों किसानों के नाम पर लोन उठाकर हड़प गए। हमे लगातार शिकायतें मिलने पर हमने तय कर कर लिया था कि चाहे देरी हो जाए, लेकिन व्यवस्था इतनी मजूबत करेंगे कि घोटाले की कोई गुंजाइश न रहे। इसे दूर करने के लिए हमने कर्जमाफी 2019 में आधार आधारित अभिप्रमाणन की व्यवस्था की। इसके बाद अब नए लोन के लिए किसान सेवा पोर्टल की शुरूआत की है। इसमें 5.50 लाख किसान आवेदन कर चुके हैं।

Published On:
Jul, 11 2019 07:22 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।