विधानसभा कार्यवाही : मंत्री ने की महिला विधायक पर टिप्पणी, सदन में हो गया हंगामा

By: Pushpendra Singh Shekhawat

Updated On:
11 Jul 2019, 06:21:44 PM IST

  • Rajasthan Assembly : उर्जा मंत्री बी डी कल्ला ( BD Kalla ) की सूर्यकांता व्यास ( MLA Suryakanta Vyas ) पर टिप्पणी, सदन में हंगामा

अरविन्द सिंह शक्तावत / जयपुर। rajasthan assembly में राज्य कर्मचारियों ( Rajasthan state employees ) को 16 सीसीए की चार्जशीट देने के मामले में उर्जा मंत्री ( energy minister ) बी डी कल्ला ( bd kalla ) की एक टिप्पणी से प्रश्नकाल के दौरान सदन में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच गरमा—गरमी हो गई। मामला उलझता देख विधानसभा अध्यक्ष ( rajasthan assembly speaker ) सीपी जोशी ( CP Joshi ) ने तुरन्त टिप्पणी सदन की कार्यवाही से हटा दी। इसके बाद विपक्ष शांत हुआ।

 

प्रश्नकाल ( rajasthan vidhansabha Question Hour ) के दौरान विधायक सूर्यकांता व्यास ( MLA Suryakanta Vyas ) ने कर्मचारियों को 16 सीसीए के तहत प्रस्तावित चार्जशीट के प्रकरण को लेकर सवाल उठाया। इस पर मंत्री ने कहा कि अब तक 16 सीसीए के 1030 प्रकरण विभिन्न स्तर पर लंबित हैं। सूर्यकांता व्यास प्रश्न के उत्तर से संतुष्ट नहीं हुई तो कहा कि वे पूछ कुछ और रही हैं और मंत्री कुछ और जवाब दे रहे हैं। व्यास के सवालों पर पूरा विपक्ष एक हो गया और मंत्री को घेर लिया। झल्लाए मंत्री ने यहां तक कह दिया कि मैने पूरी प्रक्रिया को लेकर जवाब दे दिया है। मैं डीओपी मंत्री रहा हूं, जो सदस्य सवाल उठा रही हैं। वे कभी मंत्री नहीं रहीं। उनको अनुभव नहीं है। 16 सीसीए की कार्यवाही में कहीं कोई नियमों का उल्लंघन नहीं हुआ।

 

विधायक के मंत्री नहीं रहने की टिप्पणी करते ही विपक्ष ने मंत्री को घेर लिया। मामला बिगडता देख अध्यक्ष ने टिप्पणी सदन की कार्यवाही से हटा दिया। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ( Gulab Chand Kataria ) ने कहा कि मंत्री तो इतना बता दें कि 16 सीसीए के नोटिस का सबसे पुराना मामला कितने साल पहले का है। कर्मचारी सेवानिव्रत हो जाते हैं, लेकिन उनके 16 सीसीए के प्रकरण खत्म नहीं होते। इस पर बी डी कल्ला ने कहा कि अभी यह जानकारी मेरे पास नहीं है।

 

यह भी पढ़े : मंत्री और मुख्यमंत्री भी डरे साइबर ठगों से, कहा किसी को मोबाइल पर जानकारी दी तो हो जाएगा खाता खाली

Updated On:
11 Jul 2019, 06:21:44 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।